ब्रेकिंग
बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स...

हड़ताल के 23वें दिन बनी सहमति, सचिवों से हुई लिपिकों की बैठक सफल, कल जिलाध्यक्षों की आपात बैठक

बिलासपुर। लिपिकों को अनिश्चितकालीन हड़ताल के 23वें दिन शासन की ओर से वार्ता का आमंत्रण मिला। सरकार की तरफ से इसमें अपर मुख्य सचिव पंचायत आर.पी.मंडल, सचिव सामान्य प्रशासन रीता शांडिल्य, कलेक्टर रायपुर एन. बासव राजू एवं सचिव जितेंद्र शुक्ला उपस्थित रहे। जबकि लिपिकों की ओर से प्रांताध्यक्ष दादा चंद्रिका सिंह, प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी, प्रदेश महामंत्री जितेंद्र सिंह, प्रांतीय प्रवक्ता जाहिद अहमद खान एवं प्रांत अध्यक्ष वन लिपिक वीरेंद्र नाग इस बैठक में शामिल हुए।
वार्ता में लिपिक वेतन मान ग्रेड पे बढ़ाने को लेकर तर्क वितर्क के बाद सहमति बनी। शासन की ओर से चर्चा कर रहे सचिवों ने हड़ताल खत्म करने पर आदेश प्रसारित करने की बात कही, इसे अस्वीकार करते हुए लिपिक संघ ने कहा कि आदेश का स्वरूप स्पष्ट होने या मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद हड़ताल खत्म करेंगे। इस तरह सार्थक एवं सकारात्मक बातचीत में लिपिक संघ अपने तर्कों से शासन को अपनी बात मनवाने में सफल रहे।
सचिव स्तर की इस चर्चा पर विस्तार से बातचीत कर आगामी रणनीति तय करने के लिए कल 1 बजे रेंजर्स एसोसिएशन हॉल पंडरी रायपुर में सभी जिलाध्यक्षों की आपात बैठक बुलाई गई  है। जिसमें सभी जिलाध्यक्षों की सहमति पर बिंदुओं पर चर्चा कर आगे का निर्णय लिया जाएगा। महामंत्री रोहित तिवारी ने बताया कि लंबे समय से संघर्ष के बाद शासन द्वारा उनकी सुध ली गई है। इस बैठक से प्रदेशभर के लिपिकों में उम्मीद जागी है कि हमारी मांगों को पूरा किया जाएगा,हम इसके लिए छत्तीसगढ़ की सरकार को धन्यवाद ज्ञापित करते हैं। साथ ही आशा करते हैं की सरकार हमारी प्रमुख समस्याओं को समझकर उसका उचित निराकरण करेगी।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772