ब्रेकिंग
तखतपुर क्षेत्र की तीन नाबालिग छात्राओं को दो युवकों ने झांसे में लिया और अरब सागर ले गए, जानिए उसके ... CG: स्वामी आत्मानंद शासकीय इंग्लिश स्कूल की छात्रा रितिका ध्रुव का इसरो में चयन बिलासपुर: नगर निगम कमिश्नर अजय कुमार त्रिपाठी को मिली भिलाई-चरौदा की कमान, SDM तुलाराम भारद्वाज को भ... बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की...

पुनिया ने अमर को कचरा प्रेमी बताया

बिलासपुर। प्रदेश कांग्रेस की नवगठित कार्यकारिणी की बैठक आज टिकरापारा स्थित गुजराती समाज भवन में हुई। यहां पहुंचे अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के महासचिव पीएल पुनिया ने कहा कि 18 सितंबर की घटना जब, पुलिस द्वारा कांग्रेस कार्यालय में घुसकर यहां के कार्यकर्ताओं को बर्बरता से मारा गया, बेहद शर्मनाक है। इसमें दोषी अफसरों की तत्काल गिरफ्तारी कर उन्हें जेल भेज देना चाहिए। मुख्यमंत्री ने इस घटना की निंदा की और न्यायिक जांच की घोषणा कर दी यह महज दिखावा मात्र है। सरकार ने लीपापोती करने के उद्देश्य से न्यायिक जांच की घोषणा कर दी है, लेकिन इसकी उच्चस्तरीय जांच होना अनिवार्य है।
‘अमर अग्रवाल के घर कचरा फेंकना कितना नैतिक मानते हैं’ के सवाल पर उन्होंने कहा कि नगरीय निकाय मंत्री अमर ने कांग्रेस को कचरे की उपाधि दी, जबकि कांग्रेस ने तो सिर्फ “कचरा प्रेमी को कचरा भेंट किया” इसमें कोई बुरा मानने वाली बात नहीं है। पुलिस द्वारा मंत्री के निर्देश पर ही इतनी बड़ी कार्यवाही की जा सकती है। जो कहीं से भी कानून के दायरे में नहीं आती। भाजपा सरकार ने सभी वर्गों को निराश किया है। अब भाजपा सरकार को हटाना समाज के हित में अनिवार्य है, कांग्रेस की सरकार सभी वर्गों का ध्यान रखने वाली सरकार है और एक उन्नत राज्य निर्माण में जनता के साथ मिलकर कार्य करेगी।
एडिश्नल एसपी नीरज चंद्राकर को पीएचक्यू अटैच करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि भाजपा साजिश के तहत यह सब कर रही है। जबकि दोषी पुलिस अफसर के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर उसे जेल में डाल देना चाहिए। भारतीय राजनीति के इतिहास में अंग्रेजों के जमाने से लेकर आज तक ऐसा नहीं हुआ जब पुलिस राजनीतिक दल के भीतर घुसकर यहां के कार्यकर्ताओं को बर्बरता से लाठी मारे। भाजपा सरकार अपने सामने जनता को कुछ नहीं समझना चाहती, वह केवल निरंकुशता से अपनी मनमानी करना चाहती है। इसलिए हमने विरोध में निंदा प्रस्ताव पारित किया और 22 सितंबर को जांजगीर-चांपा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के परिवार का भी काला झंडा दिखाकर घोर विरोध करेंगे और यह विरोध का क्रम तब तक जारी रहेगा जब तक इस मामले में सरकार सटीक कार्यवाही नहीं करती।
इस मामले में पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने कहा कि जब तक न्यायिक जांच की घोषणा नहीं हो जाती तब तक विरोध जारी रहेगा। भारतीय जनता पार्टी की सरकार द्वारा कांग्रेस पार्टी के बिलासपुर भवन में जिस तरह पुलिस से कार्यकर्ताओं को मार खिलवाया गया है। वह एक शर्मनाक स्थिति है। इसे जनता भूल नहीं पाएगी। इसके ही विरोध में प्रदेश कार्यकारिणी कांग्रेस की बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि 22 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रवास का काला झंडा दिखाकर वैधानिक विरोध किया जाएगा। इसके साथ ही पूरे प्रदेश में नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल का और मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन रमन सिंह का भी विरोध इसी तरह जारी रहेगा। जब तक इस मामले में कोई बड़ी कार्यवाही नहीं की जाती।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772