ब्रेकिंग
बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स...

कांग्रेस के विरोध पर भाजपा का वार, कहा- मल कांग्रेस का मूल चरित्र

बिलासपुर। नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल के बयान का विरोध करने के लिए कांग्रेसियों ने उनके निजी निवास पर कचरा डाल दिया। मंत्री अमर अग्रवाल के निवास के आसपास पुलिस की कड़ी चौकसी प्रबंध होने के बावजूद भी कांग्रेसी बेरिगरेट्स पार करके मंत्री के घर पहुंच गए। जहां उन्होंने उनके खिलाफ नारेबाजी करते हुए उनके निवास पर मलयुक्त कचरा फेक दिया।इसके बाद पुलिस ने कांग्रेसियों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं भाजपा ने इसे अशोभनीय बताया है। मंत्री निवास घेराव की सूचना पर पुलिस ने सड़क के दोनों ओर बेरिकेटिंग की थी पर पुलिस के सारे इंतेजाम बेकार साबित हुए कांग्रेस अपने मकसद में कामयाब हुई।
उल्लेखनीय है कि 16 सितंबर को मंत्री अमर अग्रवाल ने कछार स्थित प्रदेश के पहले ठोस अपशिष्ट प्लांट का उद्धाटन किया, इस अवसर पर उन्होंने कांग्रेस पर तीखा कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस ने शहर को कचरायुक्त बनाया था और हम कचरामुक्त कर रहें है। मंत्री के इस बयान का विरोध स्वरूप जिला कांग्रेस कमेटी ने मंत्री के राजेंद्र नगर स्थित निजी निवास का घेराव का ऐलान किया था। इस मामले में भाजपा नेता प्रवीण दुबे, राजेंद्र भंडारी, दुर्गा सोनी, मकबूल अली ने संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि जिस कृत्य को आज कांग्रेसियों ने अंजाम दिया है यही उनका मूल चरित्र है। किसी के घुर में घुस कर गुंडागर्दी करना, मलयुक्त गंदगी को फेंकना, जबरदस्ती का हो हल्ला मचाना। इसलिए जनता ने इन्हें शहर में पिछले बीस वर्षों से सत्ता से दूर रखा है। 
वहीं एल्डरमैन मकबूल कहते हैं कि चुनाव सिर पर हैं, टिकट की दौड़ में अटल सबसे आगे हैं, लेकिन उनकी अपनी कोई सियासी जमीन नहीं है। भूपेश बघेल पर आश्रित एक बिल्डर नेता बनने के सपने पाले बैठा है। हमारी पुलिस दिन रात हमारी रक्षा करती है। पुलिस को अगर ऐसे बिल्डर गाली देंगे, उनके साथ दुर्व्यवहार करेंगे तो क्या पुलिस चुप बैठेगी। अटल श्रीवास्तव व साथियों ने जिस तरह का दुर्व्यवहार किया, वह पुलिस को उकसाने वाला था। और यह बात सब जानते हैं कि वर्दी पर लगे हुए सितारे बड़ी मेहनत के बाद मिलते हैं। मकबूल ने कहा कि यह सारा नाटक अटल लोगों से सहानुभूति बटोरने के चक्कर में कर रहे हैं। 
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772