ब्रेकिंग
बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद

जम्मू -कश्मीर में बंधक बनाए गए मजदूर लौटे, बहते आंसुओं ने जाहिर किया दर्द

बिलासपुर। बिलासपुर रेलवे स्टेशन तब भी गवाह था, जब अच्छी कमाई, अच्छी जीवनशैली की आरजू ने खरसिया के एक छोटे से गांव के रहने वाले 3 परिवारों को जम्मू-कश्मीर में बंधक मजदूर बना दिया। और आज भी जब ये तीनों परिवार के लोग अपने बंधुआ मजदूरी के जीवन से मुक्त होकर अपने घर लौट रहे हैं। आज उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं है, 11 माह का बंधुआ जीवन को भुलाकर वह अपने घर लौटकर एक नया जीवन शुरु करने के लिए आतुर हैं। 
                                    ये तीनों परिवार सेठों की नगरी खरसिया के पास स्थित तेलीकोटा गांव के रहने वाले हैं। यहां पास के ही गांव का एक व्यक्ति शांति साहू निवासी शक्ति बाराद्वार (सरवानी), जो जम्मू -कश्मीर के ईटा भट्ठा में मजदूर सप्लाई का काम करता है। तीनों परिवार के लोगों को जम्मू कश्मीर अच्छा काम दिलाने और बड़ी रकम का लालच देकर ले गया। उसने तीन परिवार के 16 सदस्यों नंदू टंडन, मोतीराम टंडन, राजू टंडन, सरस्वती टंडन, करण सोनवानी, लक्ष्मी सोनवानी, हेमबाई टंडन व इन्हीं परिवार के बच्चे कुणाल टण्डन, ललिता सोनवानी, रघिनि सोनवानी, खुडकु टंडन को जम्मू कश्मीर के कुलगामा डिस्ट्रिक्ट के दिवसर थाना अंतर्गत आने वाले गांव हाबलिश के एक ईंटा भट्टा “केटु” में ले आया। जहां उनसे मिट्टी गारा पलटी, मिट्टी में पानी डलवाना समेत अन्य मेहनत मजदूरी का काम कराया जाता था। बंधकों ने बताया कि उन्हें ईंटा भट्टे का संचालक का नाम ठीक से पता नहीं पर वहां उसे “केटु” के नाम से जाना-जाता है।
माँ को भेजा छत्तीसगढ़, फिर जागी उम्मीद
बंधक करण सोनवानी ने न्यूज़ हब इनसाइट की टीम को बताया कि ईटाभट्ठा के मालिक केटु ने उन सभी को दिवसर थाना अंतर्गत आने वाले गांव हाबलिश में रखा था। यहां उसने तीनों परिवारों के सभी सदस्यों पर अपना पूरा दबाव-नियंत्रण रखा था। वह सभी से अश्लील गलियों से बात करता था। मारपीट, महिलाओं से छेड़छाड़ करता था। करण ने बताया कि ईंटा भट्ठा का मालिक केटु परिवार के सभी सदस्यों के साथ बेहद खराब व्यवहार करता था। यह सब देखते हुए उसने अपनी सास हेमबाई टंडन व अपने एक बेटे को चुपचाप जम्मू कश्मीर से अपने गांव छत्तीसगढ़ के खरसिया भेजा।
इनके कारण आ पाए वापस, कच्चे मकान में अभाव की ज़िंदगी गुजारते थे
करण ने आगे बताया कि उसकी सास हेमबाई टंडन ने यहां आकर इस समस्या को चांपा के रहने वाले शुक्ला महाराज और खरसिया के ओम प्रकाश चौधरी को बताया ओम प्रकाश व शुक्ला महाराज ने इस मामले को कलेक्टर व अन्य अधिकारियों तक पहुंचाया। इसके बाद सभी को जम्मू कश्मीर से उनके घर वापस लाने कि कवायद शुरू हुई। नवम्बर 2017 से जम्मू कश्मीर के बंधुआ रहे इन मज़दूरों को 11 माह बाद आजादी मिली। करण ने बताया कि भट्ठा मालिक ने उन्हें एक छोटा सा कच्ची ईंटो का मकान रहने को दिया था, जहां निस्तारी की सुविधा नहीं थी। उन्हें पास के ही एक किराने की दुकान से राशन खरीदकर अपना गुजारा करना पड़ता था।
अंततः 11 माह बाद वह अपने घर को लौटे रहे हैं
मजदूरों ने बताया कि उन्हें बंधुआ बनाने वाले शांति साहू से उनकी पहचान बिलासपुर स्टेशन में हुई। उनके कुछ रिश्तेदार शांति साहू के साथ काम करते थे, उन्होंने शांति साहू के काम के बारे में बताया और कहा कि यह उन्हें जम्मू-कश्मीर में बड़ा दाम दिलाएगा। अच्छी जिंदगी और बेहतर कल के लालच ने उन्हें बिना सोचे समझे जम्मू-कश्मीर जाने के लिए मजबूर कर दिया। शांति साहू उन्हें अपने साथ जम्मू-कश्मीर के ले आया और उसने उन्हें ईटा भट्ठा में काम पर लगा दिया। जहां उन्हें पति-पत्नी मिलकर 1 दिन में 2 हज़ार ईंटा बनाते थे तो उन्हें इनके बदले 1300 सौ रुपये मिलता था।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772