ब्रेकिंग
बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख

15 हजार रूपये के लिए किया दोस्त का कत्ल

बिलासपुर। सरजू बगीचा के रहने वाले आदित्य सिंह 4 सितंबर से लापता था। सनसनी तब फैली जब उसकी लाश गुरुवार को तिफरा क्षेत्र के गोखले नाले में मिली। वहीं पुलिस ने कत्ल करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों में किशन यादव पिता शरद यादव उम्र 19 वर्ष इमलीपारा का रहने वाला है जबकि दो नाबालिग भी इस वारदात में शामिल हैं, उन्हें भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 4 सितंबर की शाम 4 बजे आदित्य सिंह पिता सुधीर सिंह अपने सरजू बगीचा स्थित निवास से डीएसएलआर कैमरा अपने साथ लेकर निकला। देर रात तक नहीं लौटने से परिजनों ने परेशान होकर आदित्य के फोन नंबर पर पता करने की कोशिश की, आदित्य ने फोन नहीं उठाया। दूसरे दिन परिजनों ने थाना सिविल लाइन में उसके गुम हो जाने की शिकायत दर्ज कराई। 
पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख के निर्देश पर इस मामले में वरिष्ठ पुलिस टीम गठित की गई। आदित्य सिंह के दोस्तों उसके रहन-सहन तथा आवागमन के संबंध में गहरी जानकारी एकत्रित कर की गई, इसमें आदित्य सिंह के पास जो डीएसएलआर कैमरा था उसमें किशन यादव की फोटो आदित्य के साथ दिखा, पता चला कि आदित्य किशन के साथ कैमरा लेकर घूमने निकला था।पुलिस टीम द्वारा किशन यादव को उसके इमलीपारा के निवास से पकड़कर कड़ाई से पूछताछ करने पर किशन टूट गया उसने बताया कि 3 सप्ताह पहले वह अपने एक दोस्त की बाइक को गिरवी रखने के लिए आदित्य सिंह से ₹15000 उधार लिया था।
कुछ समय बीत जाने के बाद आदित्य रकम मांगने लगा, इससे नाराज होकर किशन ने आदित्य की हत्या की योजना बनाई। दो नाबालिको को भी शामिल किया। 4 सितंबर की शाम किशन यादव आदित्य को फोटो खिंचवाने चलने के बहाने उसके घर से बुलाकर गुमराह करने लगा। किशन यादव उसे घटनास्थल पर लेकर गया, जहां नाबालिक दो नाबालिग पहले से ही बैठे हुए थे। वहां पहुंचने के बाद किशन और आदित्य के बीच पैसे को लेकर विवाद हुआ। इतने में बेसबॉल के बेट से एक नाबालिग युवक ने आदित्य के सिर पर वार किया। जिससे कमरे में रखे तखत में गिरकर आदित्य छटपटाने लगा, किशन यादव ने चाकू से गर्दन व अन्य जगह चोट पहुंचाकर आदित्य की हत्या कर दी। वही दोनों नाबालिग ने इस वारदात में उसका साथ दिया।
किशन ने बताया की हत्या के बाद उन्होंने आदित्य सिंह का मोबाइल रेलवे स्टेशन जाकर रायगढ़ मेमू ट्रेन के सीट के नीचे छिपा दिया। फिर रात के करीब 1 बजे तीनों मिलकर दो मोटरसाइकिल के सहारे आदित्य के शव को बिस्तर में लपेटकर गोखले नाला पुल के पास जाकर फेंक दिए। उल्लेखनीय है कि आदित्य सिंह का शव गोखले नाला थाना सिरगिट्टी अंतर्गत पाया गया था। थाना सिरगिट्टी में मर्ग कायम कर जांच पंचनामा किया गया। मृतक की मृत्यु शरीर पर गंभीर चोटों की वजह से होना पाया गया। इसमें धारा 302, 201 का अपराध पंजीकृत कर आरोपियों की निशानदेही के आधार पर तलाशी की गई। इसके बाद आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने आरोपियों के पास से घटना में प्रयुक्त बेसबॉल बेट, चाकू एवं दोनों मोटर साइकिल तथा मृतक का कैमरा, आधार कार्ड, फोटो एवं आरोपियों द्वारा पहने हुए कपड़े आदि सामान जप्त कर लिया गया है और आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर भेज दिया गया है।
इस पूरी कार्यवाही में एसपी बिलासपुर आरिफ शेख के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर नीरज चंद्राकर, उप पुलिस अधीक्षक क्राइम ब्रांच प्रवीण चंद्र राय के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच के सहायक उपनिरीक्षक हेमंत आदित्य, प्रधान आरक्षक अशोक चौरसिया, धनेश साहू, आरक्षक गोविंद शर्मा, दीपक उपाध्याय, विकास यादव, वीरेंद्र साहू, राहुल जगत, कमल साहू, नितेश सिंह, अविनाश पांडे, बुद्ध कुमार तथा थाना प्रभारी निरीक्षक नितिन उपाध्याय एवं सहायक उपनिरीक्षक उमेश उपाध्याय की महत्वपूर्ण भूमिका रही।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772