ब्रेकिंग
बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद

कॉलोनियों में विकास के लिए 10 करोड़ रुपए का टेंडर जारी

बिलासपुर। अवैध 26 कलोनाइजर्स द्वारा बनाए गए 48 कालोनियों को निगम द्वारा आज हस्तांतरण कर लिया गया है। नगर निगम बिलासपुर के तत्वाधान में आयोजित समारोह में निजी कालोनियों को निगम ने हैंडओवर लिया। अब इन कालोनी में रहने वालों को निगम की सभी सुविधाओं का लाभ मिलेगा। वहीं शुरुआती दौर में इन कालोनियों में सड़क, नाली, उद्यान मरम्मत, सामुदायिक भवन निर्माण सहित अन्य विकास कार्यों के लिए 10 करोड़ के कार्यों को स्वीकृति देकर टेंडर जारी कर दिया गया है। कार्यक्रम में मंत्री अमर अग्रवाल ने आवश्यकता अनुसार अन्य कार्यों की सूची सप्ताह भर के भीतर देने और इन कार्यों को भी प्रमुखता से टेंडर लगाने की बात कही।
समारोह के मुख्य अतिथि नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल ने  कहा है कि शहर तेजी से बढ़ रहा है, कुछ वर्षां के अंदर ही यहां बहुत सी नई कालोनियां बनी, 2003 में कालोनियों के नियमितिकरण के जो कानून बनाए गए थे, उसमें कुछ खामियां थी। इसके चलते इन कालोनीवासियों को पानी, बिजली, सड़क, सफाई, बिल्डिंग परमिशन आदि निगम की सुविधाएं नहीं मिलती थी।  इसके बाद वर्ष 2016 में कालोनी नियमितिकरण के नए कानून बनाए गए, जिसमें अवैध कालोनियों को वैध करने सभी नियम सरल किए गए। इसके तहत शहर के 10 हजार लोगों ने आवेदन किया, जिसमें 80 प्रतिशत आवेदनों का निराकरण हो गया है, शेष बचे आवेदनों का भी जल्द निराकरण कर लिया जाएगा। 
मंत्री अग्रवाल ने आगे बताया कि देश के 100 स्मार्ट सिटी में बिलासपुर शामिल है, जब स्मार्ट सिटी की घोषणा हुई तो टॉप प्रायर्टी में शहर के इन 48 कालोनियों को हैंडओवर लेने के कार्यों पर ध्यान दिया गया। अब इन कालोनियों को निगम की सभी सुविधाओं का लाभ मिलेगा। शहर बढ़ता है तो नागरिकों को सुविधा मुहैया कराने चुनौतियां भी बढ़ती है।पूरे देश में सबसे बड़ी चुनौती वर्तमान में कचरे निबटान है। इसे देखते हुए डोर टू डोर कलेक्शन मिशन क्लीन सिटी प्रदेश के सभी निकायों में शुरू किया गया। इसी का ही नतीजा रहा है कि इस मॉडल को पूरा देश में शुरू किया गया और स्वच्छता सर्वेक्षण में देश में प्रदेश तीसरा और 4302 शहरों में बिलासपुर 22 वां स्थान पर रहा।
मैकेनिजम सिस्टम से शहर के सड़कों की सफाई 
उन्होंने आगे कहा कि कछार में आरडीएक्स प्लांट आने वाले 15 दिनों में बन जाएगा। इसके बाद यहां सूखे कचरे से इंधन बनाने और गिले कचरे से खाद् बनाने कार्य शुरू हो जाएगा। इसी तरह शहर के सड़कों की सफाई मैकेनिजम सिस्टम से होगा। इसके बाद स्वच्छता की श्रेणी में शहर 22वां स्थान से उठकर कही और स्थान में नजर आएगा। 
स्मार्ट सिटी प्लान का इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम शहर में होगा लागू
मंत्री अमर ने कहा कि ट्रैफिक व्यवस्था भी एक चुनौती है, इसके लिए स्मार्ट सिटी प्लान में इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आईटीएमएस) और कमांड सेंटर को शामिल किया गया है  जल्द ही दोनों का कार्य शुरू होगा। इसमें एक कमरे से ही यातायात, बिजली, पानी व ट्रांसपोर्ट को कंट्रोल किया जा सकेगा। 
वाट्सअप या फेसबुक पर दें समस्या की जानकारी 
कार्यक्रम के पूर्व कमिश्नर सौमिल रंजन चौबे ने कहा कि शहर में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन प्रमुखता से किया जा रहा है। आने वाले 15 दिनों में कछार का आरडीएक्स प्लांट और शहर को 500 बीट में बांटकर मैकेनिजम तरीके से सड़कों की सफाई व्यवस्था शुरू की जाएगी। सफाई से संबंधित किसी भी तरह की समस्या का फोटों खिंच फेसबुक या मोबाइल नंबर पर वाट्सअप करें उसमें त्वरित कार्रवाई की जाएगी। इसी तरह उन्होंने ग्रीन बिलासपुर अभियान के तहत कालोनियों में पौधे लगाने के साथ जिन कालोनी में पौधरोपण हुए हैं। वहां पौधों की सुरक्षा को लेकर किसी भी तरह की परेशानी की जानकारी देने की बात कही। इसी तरह श्री चौबे ने सभी घरों में रैन वाटर हार्वेस्टिंग लगाने की अपील की। इस कार्यक्रम में मेयर किशोर राय, कमिश्नर सौमिलरंजन चौबे, एमआईसी सदस्य श्याम साहू, बंसी साहू, उमेशचंद्र कुमार, एल्डरमेन मनीष अग्रवाल, प्रवीर दुबे सहित जनप्रतिनिधि, कालोनाइजर, कालोनीवासी व निगम के अधिकारी और कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772