ब्रेकिंग
बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख

तिहरा हत्याकांड का आरोपी अमजद गिरफ्तार

बिलासपुर। बिलासपुर रेंज के चकरभाठा थाना अंतर्गत  रहने वाला अमजद खान ने गुरुवार की बीती रात अपनी पत्नी व बच्चों को मौत के घाट उतार दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद वह अपने आप की जान लेने की फ़िराक़ में भी घूमता रहा। इसी बीच उसने दीमक मारने की ज़हरीली दवाई खरीदी, उसे खाकर उसकी स्थिति बिगड़ने लगी, इस दरमियानी पुलिस को सूचना मिली कि वह संदिग्ध हालात में घूम रहा है इसके बाद पुलिस ने अमजद खान को गिरफ्तार कर तबियत बिगड़ने के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
इस मामले की पूरी जानकारी देते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर नीरज चंद्राकर ने बताया कि चकरभाठा का रहने वाला अमजद खान ने अपनी पत्नी शरीफा बेगम, बेटी अंजुमन निशा, बेटे आफताब खान की हत्या कर दी। आरोपी अमजद खान मनिहारी सामान बेचने का काम करता है, वह रोज की तरह ही गुरुवार को भी फेरी लगाकर घर वापस आया पर रात को वह जिस कमरे में अपनी पत्नी और बच्चों के साथ सोया था। वहां सुबह को उनकी लाश मिली। पंचनामा में ख़ुलासा हुआ कि ज्यादा खून बहने की वजह से उसकी मौत हुई। इसके बाद से आरोपी अमजद खान फरार रहा उसने दीमक मारने की दवाई खाकर भी अपनी जान देने की कोशिश की। मगर इससे पहले कि हालात बिगड़ते पुलिस को इसकी सूचना मिल गई और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर अस्पताल में दाखिल करा दिया।
पूछताछ के दौरान अमजद खान ने बताया कि वह परिवार को लेकर तनाव में रहता था इसलिए उसने सोच-समझकर यह कदम उठाया। उसने अपनी बीवी बच्चों की हत्या कर अपनी भी जान गवाने की कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हो पाया। अमजद ने बताया कि घर में पिता उसके छोटे भाई को ज्यादा महत्व देते थे। इस कारण उसने अपनी पत्नी से घर छोड़कर जाने की भी बात कही थी मगर पत्नी के मना करने के बाद उसने यह कदम उठाया।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772