ब्रेकिंग
बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्...

राहुल के बयान पर जोगी का पलटवार, कहा- चुनावी पर्यटकों से जनता को कोई फ़र्क नहीं पड़ता

रायपुर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ सुप्रीमो अजीत जोगी ने  कांग्रेस की वर्तमान स्थिति पर तीखा कटाक्ष करते हुए कहा है कि जो ख़ुद बसपा और सपा के रहमो करम पर आज संसद में बैठकर आंख मार रहे हैं और कुछ समय पहले तक जेडीयू को अनाप-शनाप बोलने वाले आज उनके पैरों पर गिड़गिड़ाकर सरकार बना रहे हैं। आगे जोगी कहते हैं, की उनके मुँह से क्षेत्रीय दलों के बारे में ऐसी बातें शोभा नहीं देती। कांग्रेस अध्यक्ष को कुछ भी बोलने से पहले देश में अपनी पार्टी की लंबाई और चौड़ाई नाप लेना चाहिए।
छत्तीसगढ़ दौरे पर पहुंचे कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के पैराशूट बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए जकांछ के संस्थापक अध्यक्ष अजीत जोगी ने कहा कि राहुल गांधी का पैराशूट वाला बयान हास्यास्पद है क्योंकि वो स्वयं एक पैराशूट नेता होने का जीवंत उदहारण हैं, उन्हें बकायदा पैराशूट पहनाकर राजनीति में उतारा गया है वो कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने नहीं बल्कि बनाये गए हैं। वहीं कांग्रेस वापसी के कयासों पर राहुल गांधी की प्रतिक्रिया पर पलटवार करते हुए जोगी ने कहा, कांग्रेस पार्टी टाइटैनिक जहाज है राहुल गांधी इसके कप्तान हैं। प्रदेश की जनता जानती है कि उनके जीवन में खुशहाली, मोदी के बुलेट ट्रेन या राहुल गांधी के डूबते जहाज में सवारी से नहीं आएगी बल्कि जोगी का हल चलाकर आएगी।
अजीत जोगी ने आगे कहा कि टूरिस्ट की तरह चार साल में चार बार छत्तीसगढ़ आने वाले कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ में स्थानीय मुद्दों की बात करने से कतराते हैं। पोलावरम और कनहर बांधों का निर्माण, नगरनार इस्पात संयंत्र का विनीवेश, इंद्रावती और महानदी के पानी पर उड़ीसा का एकाधिकार, आउटसोर्सिंग, समर्थन मूल्य, क़र्ज़ माफ़ी, शराबबंदी, बढ़ते बिजली बिल, छत्तीसगढ़ वासियों के दिल और पेट से जुड़े किसी भी मुद्दे पर राहुल कुछ भी नहीं बोलते। केवल कोरी भाषणबाजी कर वापस दिल्ली लौट जाते हैं। जोगी ने कहा कि दिल्ली से आए ऐसे ‘चुनावी पर्यटकों’ को छत्तीसगढ़ की जनता गंभीरता से नहीं लेती। 
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772