ब्रेकिंग
बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख

झीरम घाटी कांड के दोषियों के नाम सार्वजनिक करें राहुल गांधी : जोगी

रायपुर। अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी छत्तीसगढ़ के राजधानी रायपुर आने वाले हैं इसके मद्देनजर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ सुप्रीमो अजीत जोगी ने कहा है कि राहुल छत्तीसगढ़ आएं तो अपने साथ झीरम घटना के दोषियों के नाम की पर्ची और प्रमाण भी अपने जेब में लेते आएं।

उन्होंने राहुल गांधी को चुनौती दी है और कहा है कि एक तरफ जहां कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष झीरम कांड पर चुप्पी साधे हुए है वहीं प्रदेश कांग्रेस के कुछ नेता और प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अपनी राजनीतिक रोटी सेकने झीरम कांड को लेकर आये दिन तथ्यहीन बयानबाजी करते हैं। दोषीयों का पता होने की बात करते हैं।

अजीत जोगी ने आगे बताया कि अगर कांग्रेस पार्टी को पता है  झीरम कांड का दोषी कौन है तो कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वयं प्रमाणों के साथ झीरम के दोषियों के नाम क्यों नही सार्वजनिक करते। जोगी ने कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष से पूछा है कि वर्ष 2013 में केंद्र में कांग्रेस सरकार होते हुए भी झीरम कांड की सीबीआई जांच क्यों नही कराई गई।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के संरक्षण में ही छतीसगढ़ के कुछ एक नेता, झीरम के शहीदों की शहादत पर ओछी और द्वेषपूर्ण राजनीति कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी,  झीरम के शहीदों के परिवार वालों को न्याय दिलाने नही लड़ रही है बल्कि छत्तीसगढ़ में अपना अस्तित्व बचाने झीरम घटना का राजनीतिक इस्तेमाल कर रही है। यह जानकारी जिला प्रवक्ता बिलासपुर विक्रांत तिवारी द्वारा दी गई है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772