ब्रेकिंग
बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स...

खाद तौल में गड़बड़झाला, जोगी ने मुख्य सचिव को लिखा पत्र

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ सुप्रीमो अजीत जोगी ने मुख्य सचिव छत्तीसगढ़ शासन को पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने सोसाइटी माध्यम से किसानों को बांटे जा रहे खाद की मात्रा कम होने का दावा किया है। जोगी ने बताया है कि खाद की कीमत 12 सौ से 23 सौ प्रति बोरी है, इसके बावजूद सोसायटी से वितरित किए जा रहे खाद की बोरी 50 किलोग्राम की ना होकर उसके वजन में 5 से 10 किलोग्राम की कमी है। जबकि किसान पूरे 50 किलो की पैसा कीमत चुका रहे हैं।

जोगी ने कहा है कि किसानों के साथ सोसाइटियों के माध्यम से प्रदेश सरकार द्वारा छल किया जा रहा है, जोगी ने आरोप लगाया है कि खाद निर्माताओं एवं विक्रयकर्ताओं को लाभ पहुंचाने की मंशा से ऐसा किया जा रहा है। उन्होंने मुख्य सचिव छत्तीसगढ़ शासन से अनुरोध किया है कि जल्द से जल्द इस मसले पर कार्यवाही कर भौतिक सत्यापन कर खाद की बोरी में बराबर वजन करने की बात कही है।

जकांछ प्रदेश प्रवक्ता नितिन भंसाली ने ने बताया है कि छत्तीसगढ़ जे के संस्थापक अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने प्रदेश के मुख्य सचिव को पत्र लिखा है, पत्र में प्रदेश की सभी सोसाइटियों में रखे खाद के स्टाक एवं खाद से भरी बोरी के वजन का भौतिक सत्यापन कराने की मांग की गई है। उन्होंने कहा कि यह भाजपा सरकार का किसानों के साथ किये जा रहे छल का यह ज्वलंत उदाहरण है, प्रदेश प्रवक्ता नितिन भंसाली ने बताया कि जब पार्टी सुप्रीमों ने अपने विश्वस्त सहयोगियों को इसकी जांच करने के निर्देश दिए, इसके बाद एक सहयोगी द्वारा जिला मुंगेली के पथरिया ब्लाक अंतर्गत सिलदाह सोसायटी के आश्रित गंगवारी ने इसकी जांच की तो खाद की बोरियों में 50 किलोग्राम के स्थान पर प्रत्येक बोरी में 5 से 10 किलोग्राम खाद की कमी पाई गई।

              जोगी का आरोप है कि किसानों की आय दुगनी करने का दावा करने वाली भाजपा की सरकार अन्नदाताओं के साथ अन्याय कर रही है। वर्तमान समय किसानी का समय है, किसान अपने-अपने खेतों के लिये सोसाइटी के माध्यम से खाद खरीदती है जिसमें यूरिया, सुपर फास्फेट,डी.ए.पी. सहित कई प्रकार के खाद होते हैं। प्रत्येक बोरी में 5 से 10 किलोग्राम खाद की कमी होने किसानों को तो कोई फायदा होते नहीं दिख रहा है बल्कि खाद निर्माताओं एवं विक्रयकर्ताओं को लाभ होता दिख रहा है।

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के सुप्रीमों ने प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव से इस संबंध में शीघ्र पहल कर किसानों को न्याय दिलाने एवं प्रदेश की समस्त सोसाइटियों रखे खाद के स्टाक एवं प्रति बोरी वजन का भौतिक सत्यापन कराने की मांग की है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772