ब्रेकिंग
बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख बिलासपुर: बिल्हा क्षेत्र से गायब हुई नाबालिग लड़की तेलंगाना में मिली

संविलियन के नाम पर गुरुओं को धोखा दे रही है भाजपा सरकार : शैलेश……..

बिलासपुर। कांग्रेस कमेटी प्रदेशप्रवक्ता शैलेश पांडेय ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में हर दिन गुरुओं का अपमान हो रहा है, सम्मान तो दूर भाजपा सरकार उन्हें सम्मानजनक वेतन भी नहीं दे रही है। शिक्षाकर्मियों के साथ जो अन्याय हुआ है, वह प्रदेश की जनता के सामने है। लंबे समय के आंदोलन के बाद सरकार ने संविलियन के नाम पर धोखा देने के लिए नया षड्यंत्र रचा है, इस आधार पर अब उनके अधिकारों की बातें भी गोल-गोल की जा रही है।

शैलेश ने जारी प्रेस नोट में आगे कहा कि प्रदेश में लगभग 1 लाख 80 हजार शिक्षाकर्मी है और बिलासपुर जिले में 15 हजार। सम्मानजनक वेतन की मांग को लेकर उनका आंदोलन वर्षों से चल रहा है, वह अपने हक की लड़ाई के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इस लड़ाई में 10 शिक्षकों की जान तक चली गई है। लेकिन इसके बाद भी शासन ने षड्यंत्र करते हुए संविलियन करने की बात करके धोखा दिया है। उन्होंने कहा है कि सरकार शब्दजाल की नीतियों में फंसाकर संविलियन के नाम पर धोखा दे रही है।

उन्होंने आगे कहा कि यही हाल उच्च शिक्षा का भी है, बिलासपुर संभाग के सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में सैकड़ों पद खाली हैं, जिनको भरा नहीं गया है। बिलासपुर विश्वविद्यालय लगभग 200 पदों में प्राध्यापकों की भर्ती होनी है। विश्वविद्यालय में ही नॉन टीचिंग स्टाफ की 55 पदों में भर्ती 3 साल से अटकी हुई है। शैलेश ने बताया कि पंडित सुंदरलाल शर्मा विश्वविद्यालय आज भी संविदा के शिक्षकों और अधिकारियों पर चल रहा है, गुरु घासीदास सेंट्रल यूनिवर्सिटी में संविदा प्राध्यापकों शिक्षकों के भरोसे पढ़ाई कराई जा रही है।

शैलेश पांडे ने कहा कि हर स्कूल कॉलेज और विश्वविद्यालयों में गुरुओं का सम्मान किया जा रहा है, लेकिन सच तो यह है कि पिछले 3 बार से सत्ता में बैठी भाजपा सरकार ना तो इनका सम्मान करना चाहती और ना ही इन्हें सम्मानजनक वेतन देना चाहती है। यह तो कारोबारियों और व्यापारियों, उद्योगपतियों की सरकार है जो मुनाफाखोरी के आधार पर चल रही है। प्रदेश प्रवक्ता शैलेश ने कहा कि कांग्रेस इन सभी अव्यवस्थाओं का घोर विरोध करती है, शिक्षकों को सम्मानजनक स्थान मिलना चाहिए पर भाजपा के राज में यह नहीं हो रहा है। जो दुर्भाग्यजनक है। शिक्षकों का सच्चा सम्मान ही प्रदेश की प्रगति सुनिश्चित करेगा। आगे उन्होंने भाजपा को असंवेदनशील सरकार ठहराते हुए कहा है कि शिक्षकों के प्रति भाजपा सरकार का रवैया सौतेला है, जबकि पूंजीपतियों के प्रति भाजपा समर्पित है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772