ब्रेकिंग
बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्...

शैलेश ने कहा- किसानों के आंसू पोछने के बजाय उनकी मजबूरी बेच रही सरकार…..

बिलासपुर। फसल बीमा के नाम पर सरकार भ्रष्टाचार करके किसानों को ठग रही है, इसके प्रमाणित दस्तावेज है की किसानों को 1 रुपये 2 रुपये तक फसल बीमा का भुगतान किया गया है बीमा कंपनी करोड़ों रुपये डकार कर किसानों को गुमराह कर रही है। प्रदेश में किसानों की मौत के लिये सिर्फ और सिर्फ भाजपा सरकार जिम्मेदार है। किसानों को बोनस देने के लिये सरकार ने प्रोपेगेंडा किया लेकिन उन्हें कितना और कब बोनस दिया गया इस बात का जवाब सरकार के पास नहीं है और किसान दर-दर भटकने के लिये मजबूर है। किसान भाइयों पर हो रहे अन्याय की लड़ाई में पूरी प्रदेश कांग्रेस उनके साथ हैं और हम उनके हक की लड़ाई को लड़ते रहेंगे।
फसल बीमा भुगतान की मांग को लेकर पथरिया के ग्राम बदरा में आंदोलन कर रहे किसान की मौत पर कांग्रेस प्रवक्ता शैलेश पांडे ने सरकार और प्रशासन के भर्राशाही और गैरजिम्मेदाराना रवैये पर जमकर नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा है कि पूरे देश में यह पहला मामला है, जब फसल बीमा के भुगतान के लिये अधिकारियों के पास गुहार लगाते हुये किसी अन्नदाता किसान की जान चली गई हो। इसके बाद भी व्यवस्था के जिम्मेदार लोगों की आंखें नहीं खुल रही हैं। शैलेश पांडे ने कहा कि इसके पूर्व में कोटा क्षेत्र के किसान ने कर्ज के दबाव में आकर आत्महत्या कर ली थी। इसके बावजूद शासन और प्रशासन ने पूरे मामले में लीपापोती कर उसे बैंक कर्ज से आत्महत्या ना बताते हुये अपना पल्ला झाड़ लिया।
कांग्रेस प्रवक्ता शैलेश पांडे ने कहा कि भाजपा सरकार को किसानों को प्रति इस तरह गैर-जिम्मेदाराना रवैया उनकी असंवेदनशीलता और किसानों के प्रति घोर लापरवाही को बयां करता है। अधिकारियों के सामने फसल बीमा की मांग करते हुये एक किसान भाई की मौत हो गई। भाजपा सरकार, इसके मंत्री और प्रशासन के अधिकारी इस बात को नहीं समझ रहे हैं।शैलेश पांडे ने कहा इसकी की इसकी जांच करके प्रशासनिक अधिकारी से रिपोर्ट की मांग की है, उसकी मौत घर में होना बताया जाएगा उसे मौके में उपस्थित होना भी नहीं बताया जाएगा। 
शैलेश ने आरोप लगाते हुये कहा कि भाजपा सरकार किसानों की जमीन उनके मेहनत को पूंजीपतियों को बेचने का काम ही करते हैं ना कि किसानों के लिए कोई हित की योजना बनाने की। इस मामले में कड़ी से कड़ी जांचकर इसमें जिम्मेदार के विरुद्ध कार्यवाही करने की बात कही है। उन्होंने बताया कि ऐसा शासन के अधिकारी सरकार के दबाव में कर सकते हैं। शैलेश पांडे ने कहा कि यह सरकार विकास यात्रा के नाम पर करोड़ों रुपये फूंक रही है और किसान मुआवजे की मांग को लेकर आंदोलन करने को मजबूर हैं जिसमें उनकी मौत भी हो रही है। यह कौन सी विकास-यात्रा है। यह सच आज प्रदेश की जनता के सामने आ गया है।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772