ब्रेकिंग
बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्...

भाजपा नेताओं को बचाने के लिए मुख्यमंत्री मौन धारण कर लेते हैं : कांग्रेस….

बिलासपुर। भारतीय जनता पार्टी की रमन सरकार नैतिकता का लबादा ओढ़े, मात्र सीडी लहराने से सीबीआई जांच के आदेश देती है। पुलिस की तत्परता से आनन-फानन में गिरफ्तारियां की जाती है पर एक अनुसूचित जनजाति की लड़की के साथ चार वर्षों तक लगातार रेप होता रहा, बिन ब्याही मां बन गई उसकी रिपोर्ट तक नहीं लिखी जा रही थी। केवल इसलिए क्योंकि लड़का गृहमंत्री का भतीजा है। तब रमन सिंह का वह मापदण्ड कहां खो जाता है ? जब भाजपा नेता, कार्यकर्ता अनैतिक कृत्य में दोषी होता है।
                  

हाल ही के मामले, प्रदेश गृहमंत्री के भतीजे पर दुष्कर्म के लगे आरोप पर प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर, ज़िलाध्यक्ष विजय केशरवानी, प्रदेश प्रवक्ता द्वय अभय नारायण राय, शैलेश पांडेय, नेता प्रतिपक्ष शेख नजीरुद्दीन ने कहा कि ‘पर उपदेश कुशल बहु तेरे’ भाजपा के सारे नेता उपदेशक की तरह जनता को ज्ञान बांटते रहते हैं, अच्छे दिन, काला धन, भ्रष्टाचार, 15-15 लाख, किसानों की आमदनी दुगना, अपराध मुक्त, ‘बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ’ पर ये सब जुमला और स्लोगन मात्र है।

                    उन्होंने आगे कहा कि जब कोई भाजपा के नेता का सम्बंध किसी घटना में आ जाए तो सारे नियम कानून ताक पर रख दिए जाते हैं। डॉ रमन सिंह के 15 वर्षो के कार्यकाल में छत्तीसगढ़ में महिलाओं पर अत्याचार लगातार वृद्धि हो रही है पर सरकार को ऐसी घटनाओं को रोकने में गम्भीरत नहीं दिखती। झिलियामाद के आदिवासी छात्रावास की घटना, नशबंदी कांड, गर्भाशय कांड, बिलासपुर के कन्या हॉस्टल से बर्बरता पूर्वक पुलिस कार्यवाही करते हुए लाठीचार्ज करना, मीना खलको फ़र्ज़ी एनकाउंटर, सामाजिक कार्यकर्ता सोढ़ी के साथ दुर्व्यवहार जैसी घटनाओ की लंबी फेहरिस्त है।

                   कांग्रेस जनों ने आगे बताया कि इसी क्रम में गृहमंत्री का भतीजा शोमध एक अनुसूचित जनजाति की छात्रा के साथ झूठा आश्वासन देकर चार वर्षों से दैहिक शोषण करता रहा और बिन ब्याही बन जाने पर शादी से इंकार कर दिया। वह लड़की न्याय के लिए भटकती रही। शायद चुनाव का समय नहीं होता तो लड़की को न्याय नहीं मिल पाता। उच्च अधिकारी के हस्तक्षेप से केस फ़ाइल हुई पर अभी तक गिरफ्तारी नहीं हो सकी। भाजपा नेताओं को बचाने के लिए डॉ रमन सिंह मौन धारण कर लेते हैं।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772