ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

कांग्रेस ने किया सिम्स का घेराव, कहा- मरीजों की जान के साथ किया जा रहा है खिलवाड़ …..

बिलासपुर। जिला कांग्रेस कमेटी एवं पार्षद दल ने आज सिम्स का घेराव किया। कांग्रेस का आरोप है कि सिम्स की बदहाली और ढुलमुल स्थिति से मरीज व उनके परिजन शिकार होते रहे हैं, फिर भी प्रबंधन बड़ी लापरवाही करता जा रहा है। कांग्रेस ने अव्यवस्था, अराजकता, भ्रष्टाचार एवं स्वास्थ्य संबंधी कमी को दूर लेकर ज्ञापन सौंपा। 
                      ज्ञापन में कांग्रेस ने कहा है कि चिकित्सा संस्थान कार्यप्रणाली पर गंभीर प्रश्न चिन्ह लगे हैं, ड्यूटी में लगे डॉक्टर मरीजों से दुर्व्यवहार करते हैं, हाल ही में पार्षद पंचराम सूर्यवंशी के वार्ड की एक महिला को जलने के उपरान्त सिम्स में उपचार हेतु लाया, सिम्स पहुंचने पर सिम्स की लाईट बंद थी, बर्न यूनिट में उसे रखा गया, जहां पर लाईट की कोई व्यवस्था नहीं थी, जिससे यूनिट के सभी एसी बंद हो गए थे, जिसके कारण मरीजों को अत्यधिक परेशानी हो रही थी। इस पर प्रबंधन ने कोई कार्यवाही नहीं की, जिसके कारण उक्त महिला की मृत्यु हो गई, एक्स-रे मशीन एमआरआई मशीन सहित सभी महत्वपूर्ण उपकरण हमेशा बंद पाए जाते हैं।
                कांग्रेस नेताओं ने आगे बताया कि सिम्स में बदहाली का आलम ऐसा है कि रैबीज का इंजेक्शन कभी उपलब्ध नहीं रहता, गंभीर अवस्था में पहुंचने पर डॉक्टर बिना वजह अपोलो सहित कई प्रायवेट चिकित्सालयों में रिफर कर देते हैं, डॉक्टरों द्वारा महिलाओं से मारपीट की घटना भी हो चुकी है। कांग्रेस ने ज्ञापन के माध्यम से डीन को चेतावनी भी दी कि जल्द कार्यवाही करते हुए व्यवस्था में आवश्यक सुधार नहीं किए गए तो सिम्स के सामने, राज्य सरकार, स्वास्थ्य मंत्री और सिम्स प्रबंधन के खिलाफ बड़ा आंदोलन खड़ा किया जाएगा, जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।
                         ज्ञापन स्वीकृत पश्चात सिम्स के डीन ने ज्ञापन में उल्लेखित सभी समस्याओं को 7 दिनों के भीतर परीक्षण कर यथासभंव निराकृत करने स्वीकृति जताई है। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस कमेटी महामंत्री अटल श्रीवास्तव, शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर,  वरिष्ठ नेता बैजनाथ चन्द्राकर, शेख गफ्फार, विजय पाण्डेय, किशोरी लाल गुप्ता, एस.पी चतुर्वेदी, महेश दुबे, अभय नारायण राय, ब्लाक अध्यक्ष तैयब हुसैन, विनोद साहू, नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन, पार्षद शैलेन्द्र जायसवाल, अखिलेश बाजपेयी, एस.डी कार्टर, रामा बघेल, पंचराम सूर्यवंशी, काशी रात्रे, रमेश गुप्ता, भागीरथी यादव, बंजारे, सीमा पाण्डेय, अनिता लव्हात्रे, चित्रलेखा कंसकार, जयश्री शुक्ला, रेखा टांडी, अफरोज बेगम, मंजू त्रिपाठी, विक्की आहूजा, सुभाष ठाकुर, सुबोध केसरी, जहुर अली, निर्मल बतरा सहित कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772