ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

संविलियन में मुख्यमंत्री सातवां वेतनमान भी शामिल करें : यादवेन्द्र……

सूरजपुर। संविलियन की घोषणा से पूरे प्रदेश शिक्षाकर्मियों में खुशी की लहर है पर सातवें वेतनमान का जिक्र नहीं किया जाना प्रदेश शिक्षाकर्मियों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। इस तारतम्य में जिला संचालक सूरजपुर यादवेन्द्र दुबे ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री व समस्त प्रशासनिक इकाइयों को संविलियन घोषणा के लिए धन्यवाद देते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री सातवें वेतननिर्धारण आदेश में करें और तत्काल प्रभाव से क्रमोन्नत वेतन आधार पर वेतन निर्धारण का आदेश दें।

                                       उन्होंने आगे कहा है कि पूर्व में शिक्षक पंचायत संवर्ग को क्रमोन्नत वेतनमान प्राप्त था, परन्तु मई 2013 में पुनरीक्षित आदेश के साथ वह विलोपित कर दिया गया। जिससे शिक्षक पंचायत विशेषकर सहायक शिक्षक पंचायत समग्र वेतन में  आपसी संवर्ग तुलना में भारी अंतर आ गया है, जबकि केंद्रीय वेतनमान, राज्य के दूसरे शैक्षणिक संवर्ग में ऐसा असन्तोषजनक  अंतर नहीं है। इस अंतर से आय के आधार पर भारी असमानता तथा रोष बढ़ रहा है। शैक्षणिक जगत के आपसी सम्बन्ध और शैक्षिक वातावरण के लिए प्रतिकूल हो रहा है।

                                                   आगे उन्होंने बताया कि हमारी मांग सेवाबंधन समाप्त कर केन्द्रीय वेतनमान के आधार पर वेतन निर्धारण हो, जारी हो रहे आदेश में यह शिक्षक पंचायत संवर्ग को त्वरित प्रभाव से क्रमोन्नत वेतनमान देते हुए, सातवें वेतनमान का निर्धारण किया जाए जो 1 जुलाई से प्रभावशील हो। इतना होते ही एक क्रमोन्नत प्राप्त सहायक शिक्षक पंचायत के समग्र वेतन में अन्यायपूर्ण अंतर का समापन हो जाएगा शिक्षाकर्मियों ने लगातार 5 वर्षों से इस असम्मान जनक पीड़ा को भोगा है। 

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772