ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

उत्साह में कार्यक्रम भी बेच देते हैं कांग्रेसी ……

बिलासपुर(शशांक दुबे )। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पी एल पुनिया रोज यह दावा कर रहे हैं कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के दौरे से पार्टी कार्यकर्ताओं में उत्साह का संचार हुआ है और वे ज्यादा आत्मविश्वास के साथ जनता के साथ खड़े होंगे। जबकि सत्यता इसके विपरीत है कम से कम यह बात बिलासपुर के संदर्भ में तो नहीं हो सकती है। श्री गांधी के दौरे के बाद जैसे जैसे सच्चाई ज़ाहिर हो रही है कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ धोखा व छल हुआ और यह छल झूठ शहर के दिग्गज माने जाने वाले नेताओं ने किया, ये वो नेता हैं जो शहर से टिकिट का सपना कई चुनाव से देख रहें हैं पूरा न होने पर अपनी ही पार्टी को हरा देते हैं।
पार्टी कार्यालय के बाहर खुली चर्चा है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष से शहर के गणमान्य बुद्धिजीवियों से चर्चा का कार्यक्रम पार्टी के एक प्रदेश स्तरीय पदाधिकारी ने बेचा था और इसे खरीदा था उस नेता ने जो पार्टी में तभी सक्रिय होता है जब चुनाव आता है और टिकिट न मिलने पर अधिकृत प्रत्याशी को हराने के लिए कुछ भी कर सकता है। 
श्री गांधी ने शहर के बुद्धिजीवियों से चर्चा के कार्यक्रम पर यह सोच कर सहमति दी होगी की उन्हें कुछ वास्तविक तथ्य मिलेंगे।जबकि यह तो पूरा कार्यक्रम ही उन्होंने खरीदा जो पार्टी के ताबूत में खिल ठोकते हैं, मिलने वालों की सूची देख ऐसे नागरिकों को मिलाया गया जो भाजपा के सदस्य हैं ऐसे गणमान्य को चयनित किया गया जो पिछले 14 वर्षों से शहर में अवैध प्लास्टिक का धंधा करते हैं वह भी वह भी सत्ताधारी पार्टी के दम पर, ऐसे शिक्षाविद को मिलाया गया जो वामपंथ के दरवाजे से होकर केशव कुंज की माटी से अपना माथा सजाता है। कार्यक्रम क्रय करने वालों ने अपने वाहन चालक तक को इस टीम में जगह दी। इन सब तथ्य के बाद पार्टी का उत्साही कार्यकर्ता दुगने उत्साह के साथ बिलासपुर में पार्टी की लज्जा बचाने में लग गया है और उसे ज्ञात है कि वो अपनी पार्टी की इज्जत को उन्हीं नेताओं से बचा रहा है जो अंदर रह कर इसे बेचते हैं।
पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एक एक कार्यक्रम का विश्लेषण हो रहा है और जिला ग्रामीण अध्यक्ष के चेहरे की चमक गायब हो रही है उन्हें खेल प्रबंधन का विशेषज्ञ बताया जाता है, पर यहां तो सब गूगली और यार्कर  मार रहे हैं। बहतराई स्टेडियम का कार्यक्रम सुपर फ्लॉप स्वयं प्रभारी पुनिया ने माना। बुद्धिजीवी स्लॉट बिका जिलाध्यक्ष गुगली पर बोल्ड, प्रबंधन विशेषज्ञ को बड़ा भरोसा था मीडिया पर यहां भी गच्चा पार्टी या भाजपा नहीं व्हीलचेयर ने  खबर की लीड ख़राब की भाई प्रवक्ता को लाओगे तो गेंद स्विंग तो करेगी ही। कुछ कार्यकर्ता तो यह भी कहते हैं अच्छा हुआ संवाद का कार्यक्रम सूरज की रोशनी में था, फ्लड लाइट होती तो जाने उत्साह कितना बढ़ता।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772