ब्रेकिंग
बिलासपुर: यश मर्डर केस में नया खुलासा, देखिए तस्वीरें बिलासपुर: कोचिंग की छात्रा का दो लड़कों से था लव अफेयर... बिलासपुर: यात्री ध्यान दें, उत्कल एक्सप्रेस परिवर्तित मार्ग से चलेगी बिलासपुर: स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के लापरवाह अधिकारी प्रवीण शुक्ला ने ठेकेदार कमल सिंह ठाकुर को मनमान... बिलासपुर: अनोखे अंदाज में जन्मदिन मनाकर सुर्खियों में आए अंकित गौरहा बिलासपुर: जिला प्रशासन की सही निगरानी नहीं होने के कारण प्रोग्राम मैनेजर सीमा द्विवेदी जैसे लोगों के... खड़कपुर मंडल रेल हादसा: रेलवे ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर बिलासपुर: संभागीय सम्मेलन को सफल बनाने की बड़ी जिम्मेदारी मिली विजय और शैलेश को बिलासपुर: एआईसीसी अनुसूचित जाति विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष के प्रथम मस्तूरी विधानसभा आगमन पर सोनसरी ... बिलासपुर: SECL के गेस्ट हाउस की बिजली गुल, केन्द्रीय राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे पसीना पोंछते हु...

नो पार्किंग में खड़ी विकास भवन की गाड़ियां पहुंची यातायात थाना…..

बिलासपुर। निगम कमिश्नर सौमिल रंजन चौबे के निर्देश पर निगम के विकास भवन परिसर में नो पार्किंग पर खड़ी गाड़ियों पर कार्रवाई की गई, गाड़ियों को काऊ कैचर में लोड कर ट्रैफ़िक थानें ले जाया गया।
बता दें कि विकास भवन के मुख्य द्वार के दोनों तरफ़ खाली जगह को नगर निगम द्वारा नो पार्किंग एरिया घोषित किया गया है, वहां पर नो पार्किंग के बोर्ड के साथ साथ दीवारों पर भी लिखा गया है कि ‘यहां गाड़ी रखना मना है’ बावजूद इसके निगम के ही कुछ कर्मचारियों द्वारा अपने ही विभाग के आदेश अवहेलना करते हुए गाड़िया रखी जा रही थी।
इसके मद्देनजर निगम कमिश्नर सौमिल रंजन चौबे द्वारा नो पार्किंग में खड़ी सभी गाड़ियों को काऊ कैचर में भरकर यातायात थानें ले जाने के निर्देश दिए गए। इसके बाद निगम के ही अतिक्रमण दस्ते के सहयोग से विकास भवन में नो पार्किंग में खड़ी गाड़ियों को काऊ कैचर में लोड करके यातायात थाने पहुंचाया गया।
इस मामले में न्यूज़ हब इनसाइट ने जब कमिश्नर सौमिल रंजन चौबे से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि बार-बार मना करने के बावजूद भी वहां पर गाड़ियां पार्क कर दी जाती थी, इससे मुख्य द्वार से आवागमन करने वाले लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता था। लंबे समय तक चेतावनी देने के बाद सुधार नहीं दिखने पर यह निर्णय लिया गया है, जिनकी गाड़ी विकास भवन से जप्त की गई है वे यातायात थाने से चालान भरकर उसे वापस ले सकते हैं।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772