ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

कलयुगी बेटी ने अपने ही बड़े पिताजी के घर चोरी की..

बिलासपुर। कलयुगी बेटी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने ही बड़े पिता जी के घर पर बड़े रकम की चोरी की है, पुलिस ने दोषी को गिरफ़्तार कर लिया है। बड़े पैमाने पर हुयी इस चोरी के मामले में रतनपुर पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है, 24 घंटे के भीतर पुलिस ने अपनी कार्यवाही में आरोपियों की गिरफ्तारी की है, इसके बाद आरोपियों पर आगे की कार्रवाई की जा रही है। पूरा मामला रतनपुर थाना का है, 20 मई को शिव कुमार दुबे पिता स्व. बाबूलाल दुबे, उम्र 65 वर्ष निवासी महामाया पारा रतनपुर ने अपने मकान के एक कमरे में चोरी होने की शिकायत रतनपुर थाना में दर्ज कराई थी। 
                       प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना रतनपुर में इस मामले को पंजीकृत कर बड़ी चोरी होने की वजह से वरिष्ठ अधिकारी पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अर्चना झा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस कोटा विश्व दीपक त्रिपाठी के मार्गदर्शन में रतनपुर पुलिस द्वारा त्वरित कार्यवाही कर साक्ष्य एकत्रित किया गया, संदेही कु. माया शर्मा की तलाश की गई, मिलने पर कड़ी पूछताछ के दौरान अपराधी का सब्र टूट गया और उसने अपराध स्वीकार कर लिया।
  
                दोषी कु.माया शर्मा उर्फ गीतांजलि शर्मा पिता राम प्रकाश शर्मा 21 वर्ष चौकी बेलगहना थाना कोटा, जिला बिलासपुर ने बताया कि उसने अपने प्रेमी प्रकाश बाघ पिता जसपाल बाघ उम्र 26 वर्ष कालिका नगर तिफरा थाना सिरगिट्टी जिला बिलासपुर, के झांसे में आकर अपने ही बड़े पिता के यहां चोरी करने राजी हो गई। 12 मई को सुबह 8 बजे वह अपने बड़े पिताजी के घर में रखी लोहे की अलमारी के लॉकर से 7 लाख रुपए चुरा लिया। नगदी चोरी की रकम से 2 लाख माया ने अपने पास रख लिया और 5 लाख अपने प्रेमी प्रकाश बाघ को देकर अपने घर चली गई। 
           21 मई को आरोपी माया शर्मा के कब्जे से 1 लाख 80 हज़ार रुपए एवं आरोपी प्रकाश बाघ के कब्जे से 2 लाख 65 हज़ार रुपए, कुल 4 लाख 45 हज़ार ज़ब्त रुपए जप्त किया गया। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है आज यहां 22 मार्च को दोनों आरोपियों को मानवीय न्यायालय में पेश किया गया। जिन पर आगे की कार्रवाई जारी है। 
 
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772