ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग, 14 को रायपुर में जुटेंगे पत्रकार…..

रायपुर। पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग को लेकर प्रदेशभर के पत्रकार 14 मई सोमवार को एकत्रित होंगे. विगत दिनों 3 मई को रायगढ़ में आयोजित धरना प्रदर्शन में 14 मई को राजधानी रायपुर में आंदोलन की सहमति बनी है जिसके लिए 7 तारीख को बैठक कर 14 मई के आंदोलन की अंतिम रूपरेखा तैयार की जाएगी. इस दौरान प्रदेश के सभी पत्रकारों ने रायगढ़ में आयोजित इस बैठक में सहमति दी इस दौरान पत्रकारिता के लिए सुरक्षित माहौल बनाने के विषय में चर्चा की गयी साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून बनाने के विषय में भी एक राय होकर विस्तृत चर्चा की गई.
इस विषय में जानकारी देते हुए बताया गया कि आए दिन पत्रकारों के खिलाफ हिंसा और फर्जी प्रकरण में फंसाए जाने के मामले सामने आ रहे है. जिसमें पुलिस प्रशासन भी पत्रकारों का पक्ष लिए बिना एकतरफा कार्रवाई करती है जबकि पत्रकारों के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध किये जाने के पूर्व बड़े अधिकारियों से मामले की जांच का प्रावधान है साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले पूर्व में हुए आंदोलन के पश्चात राज्य शासन द्वारा एक समन्वय समिति का गठन भी किया गया है जिसमे गृह विभाग,जनसम्पर्क विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समिति में 3 वरिष्ठ पत्रकार सदस्य है पर इसके बावजूद पत्रकारों के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने के पूर्व पुलिस द्वारा कोताही बरती जा रही है जिसके चलते पत्रकारों को प्रताड़ित करने में प्रभावशाली लोग सफल होते है.
आगे बताया गया कि कानून सबके लिए बराबर है पर जनहित के लिए पत्रकारिता करने वाले साहसी पत्रकारों के खिलाफ साजिशन मामला बना कर पत्रकारों को धमकाने और उनकी आवाज को दबाने का प्रयास किया जाता है जिसके लिए अब पत्रकार एकजुट होकर फिर से मुखर हो गए हैं और इसी कड़ी में अब विभिन्न संगठनों के पत्रकार एकमंच में एकजुट होकर पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग को लेकर राजधानी रायपुर में वृहद आंदोलन करने जा रहे है.
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772