ब्रेकिंग
बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव... बिलासपुर: जाँच के दौरान कार में मिली 22 किलो 800 ग्राम कच्ची चाँदी, व्यापारी के द्वारा पेश किया गया ... बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ के पदाधिकारियों ने मंत्री जयसिंह अग्रवाल को दिया नववर्ष मिलन सम... बिलासपुर: पत्रकार शाहनवाज की सड़क हादसे में मौत, सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ ने शोक व्यक्त कर दी श्रद्... बिलासपुर: रतनपुर थाना क्षेत्र में कार में 3 जिंदा जले, पेड़ से टकराने के बाद कार में लगी आग, अंदर ही ...

शैलेष ने दी चेतावनी, ‘नाबालिग लड़की को नहीं मिला न्याय तो होगा आंदोलन’….

 
बिलासपुर/इस समय देश उन्नाव और कठुआ गैंगरेप को लेकर उबल रहा है । इन दोनों ही मामलों पर देश के एक बड़े तबके के गुस्से की आग अभी भी जल रही है | ऐसे में बिलासपुर में 2 साल तक एएसआई दंपत्ति द्वारा नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर रखने की घटना शर्मनाक है | कांग्रेस घटना की निंदा करती है |
कांग्रेस प्रवक्ता शैलेश पांडेय ने कहा कि पिछली बार नरेंद्र मोदी और भाजपा ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा दिया था, लेकिन आगामी विधानसभा और लोकसभा के चुनाव में  सिर्फ ‘बेटी बचाओ’ नारा होगा. वह भी भाजपा से, क्योंकि यह सरकार बेटियों को नहीं बचाएगी. माता-पिता को खुद अपनी बेटियों को बचाना होगा |
इस घटना के बाद एकबार फिर रमन कारपोरेट सरकार की सुशासन नहीं कुशासन उजागर हुई है, यह सरकार मंत्री या विधायक नहीं बल्कि अफसर चला रहे हैं | आम जन की रक्षा में तैनात रक्षक ही भक्षक बन गया है | नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर रखने के मामले में पुलिस सुस्त रवैय्या अपना रही है, न तो अभी तक नाबालिग का मेडिकल जांच हो सकी  है, ना ही एएसआई दंपत्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है | 
यह शर्मनाक कृत्य है, यह पुलिस और उनके राजनीतिक आकाओं के मानवीय मूल्यों के ख़िलाफ़ है जो कि पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने में मदद करने की बजाय कार्रवाई करने से बच रहे हैं | कोई अपराधी बस अपराधी है, उसकी जाति, रंग, पद या धर्म पर विचार किए बिना उससे क़ानून के अनुसार निपटा जाना चाहिए. ‘सरकार को मामले की जाँच कराकर कोई भी नम्रता दिखाए बिना दोषियों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए |
शैलेश ने कहा कि पिछले दिनों कठुआ-उन्नाव में बच्चियों से रेप हुआ. आए दिन ऐसी घटनाएं हो रही हैं, ऐसे में ऐसी घटना में स्थानीय प्रशासन को भी मामले में संवेदनशीलता दिखते हुए जाँच करना चाहिए, कांग्रेस दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग करती है | कार्रवाई नहीं होने पर आदिवासी लड़की को न्याय दिलाने सड़क की लड़ाई लड़ेगी
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772