राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर राज्य स्तरीय कार्यशाला का आयोजन…

बिलासपुर। राष्ट्रीय पंचायत दिवस के अवसर पर आज राज्य स्तरीय एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन सिम्स स्थित  ऑडिटोरियम किया गया, इस अवसर पर पंचायती राज व्यवस्था के विषय में चर्चा-परिचर्चा आयोजित की गई साथ ही पंचायती राज व्यवस्था की विशेषताओं पर भी चर्चा की गई। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद लखनलाल साहू ने की व बतौर मुख्य अतिथि बद्रीधर दीवान सम्मिलित हुए इसके अलावा राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देशभर के पंचायत प्रतिनिधियों को सम्बोधित किया गया, इसका सीधा प्रसारण दूरदर्शन पर हुआ, इस कार्यशाला में उपस्थित सभी जनप्रतिनिधियों को प्रधानमंत्री का सम्बोधन सुनाया गया। 
कार्यशाला का उद्घाटन करते हुए विधानसभा उपाध्यक्ष बद्रीधर दीवान ने कहा कि गांवों के विकास के लिए पंचायत प्रतिनिधियों और अधिकारियों को समन्वय से कार्य करना होगा, उन्होंने बताया कि पंचायत राज व्यवस्था के तहत् गांव के पूर्ण विकास की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी पंचायत प्रतिनिधियों की है। 
पंचायतों के संसाधनों को गांव के विकास में कैसे उपयोग कर सकते हैं, यह महत्वपूर्ण मुद्दा है : सांसद लखन
कार्यशाला की अध्यक्षता बिलासपुर लोकसभा सांसद लखन लाल साहू ने की, इस दौरान अपने उद्बोधन में कहा कि ग्राम पंचायतों को सशक्त करने से गांव का विकास होगा, शासन की योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने और मूलभूत विकास के लिए पंचायती राज संस्थाओं की मुख्य भूमिका है ग्राम सभा को मजबूत करने और समुदाय की भागीदारी तथा पंचायतों के संसाधनों को गांव के विकास में कैसे उपयोग कर सकते हैं, यह महत्वपूर्ण मुद्दा है। इसके लिए हम सबको मिलकर काम करना होगा। उन्होंने विश्वास जताया कि पंचायत प्रतिनिधि गांव के विकास में अहम भूमिका निभाएंगे और आने वाले चुनौतियों को दूर करने में सफल होंगे। 
गांव का विकास होगा, तभी देश का विकास होगा : धरमलाल
कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि पूर्व विधानसभा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि देश की 70 प्रतिशत आबादी गांवों में निवास करती है। भारत की आत्मा गांवों में बसी है। गांव का विकास होगा, तभी देश का विकास होगा। पंडित दीनदयाल उपाध्याय और महात्मा गांधी की सोच के अनुरूप पंचायती राज व्यवस्था बनायी गयी। इस व्यवस्था को सफल बनाने में पंचायत प्रतिनिधियों की अहम भूमिका है। उन्होंने आगे कहा कि पंचायत को एक माॅडल के रूप में बनाने के लिए पेयजल, स्वच्छता, अतिक्रमण, खेल मैदान, बिजली, सड़क, गौठान, नाली, जल संरक्षण जैसे प्राथमिकता वाले कार्य गांव की आवश्यकता अनुरूप करना होगा। 
तालाब पाटे जा रहे पेड़ों को काटा जा रहा इस दिशा में ध्यान देना होगा : संभागायुक्त महावर
इस अवसर पर संभागायुक्त टी.सी. महावर ने अपने सम्बोधन में कहा कि गांव की मूल आवश्यकता भोजन, पानी, शिक्षा, सड़क और बिजली है। बदलते परिवेश में नजर डालें तो, आज गांवों में कीचड़ से भरे सड़कों की जगह पक्के सी.सी.रोड बन गए हैं, लेकिन विकास की कीमत भी चुकानी पड़ रही है। तालाब पाटे जा रहे हैं और पेड़ों को काटा जा रहा है। इस दिशा में ध्यान देना होगा। बारिश का पानी गांव में ही रहें, जिससे तालाब भरे रहेंगे और नलकूप रिर्चाज होंगे, उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों को पर्यावरण के लिए कार्य करने पर बल दिया।  
गांवों को विकास की रूपरेखा बनाने का पूरा अवसर मिला है : संसदीय सचिव क्षत्री
इस दौरान संसदीय सचिव राजू सिंह क्षत्री ने कहा कि ग्राम पंचायतों को पूर्ण अधिकार दिया गया है कि विकास की रूपरेखा बनाकर उसे धरातल पर उतारें, उत्कृष्ट ग्राम पंचायत बनाने के लिए अपने अधिकारों और कर्तव्यों की जानकारी होनी चाहिए ग्राम अपना कैसे विकास कर सकता है इसके लिए जिम्मेदार अधिकारियों को सोचना होगा।
सुदृढ़ पंचायतीराज व्यवस्था उत्कृष्ट कार्य करें इसके प्रशिक्षण के लिए कार्यशाला आयोजन : कलेक्टर
कार्यशाला में कलेक्टर पी. दयानंद ने कहा कि इस वर्ष भारत सरकार की ओर से पहली बार ग्राम स्वराज अभियान चलाया जा रहा है। कार्यशाला के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने बताया कि पंचायतों से क्या अपेक्षाएं हैं और पंचायती राज व्यवस्था के तहत् किस तरह बेहतर कार्य कर अपने गांव को आदर्श गांव बनाया जा सकता है। सुदृढ़ पंचायतीराज व्यवस्था कैसे बेहतर तरीके से कार्य करें, इसके लिए कार्यशाला में प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले के 54 पंचायतों का चयन किया गया है, जहां सरकार के सात फ्लेंगशिप योजनाओं का शत-प्रतिशत संचालन किया जाएगा। कार्यशाला के प्रारंभ जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती फरिहा आलम सिद्दिकी ने पंचायतीराज अभियान पर प्रकाश डाला। उन्होंने जिले के विभिन्न पंचायतों में शासन की योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन की जानकारी दी। कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले सरपंच सचिव और स्वच्छता प्रेरकों को सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय, छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष भूपेन्द्र सवन्नी, जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक साहू, नगर निगम महापौर किशोर राय, पंचायत विभाग के संचालक तारंन प्रकाश सिन्हा, स्वच्छ भारत मिशन छत्तीसगढ़ के संचालक भास्कर विलास संदीपन, राज्य आजीविका मिशन के संचालक दीपक सोनी, ठाकुर प्यारेलाल पंचायत एवं ग्रामीण विकास संस्थान निमोरा के संकाय सदस्य डाॅ.अशोक जायसवाल सहित जिला एवं जनपद पंचायतों के सदस्य, ग्राम पंचायतों के पदाधिकारी तथा अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।
ब्रेकिंग
बिलासपुर: यदुनंदन नगर में महिला के घर घुसा एक युवक, जानिए उसके बाद क्या हुआ, देखिए VIDEO बिलासपुर: अधिवक्ता प्रकाश सिंह की शिकायत पर एडिशनल कलेक्टर कुरुवंशी ने जाँच के बाद दुष्यंत कोशले और ... बिलासपुर: सारनाथ एक्सप्रेस दिसंबर से फरवरी तक 38 दिन रद्द, यात्रियों की बढ़ेगी मुश्किलें बिलासपुर: भाजपा-कांग्रेस के नेता नूरा-कुश्ती के तहत आदिवासी को ही चाहते हैं निपटाना: नेताम बिलासपुर: खमतराई की खसरा नंबर 561/21 एवँ 561/22 में से सैय्यद अब्बास अली, मो.अखलाख खान, शबीर अहमद, त... बिलासपुर: पति की अनुपस्थिति में दीनदयाल कॉलोनी निवासी लक्की खान ने पत्नी के साथ कर दी अश्लील हरकत, ज... बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! इन मामलों की जाँच अपने निगरानी में करवाइए, तभी इसमें संलिप्त जमीन दलालों क... बिलासपुर: बड़ी संख्या के साथ संघ ने निकाला पथ संचलन, जय श्री राम के जयघोष से गूंज उठा बुधवारी फुटबॉल... बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! शासन की छवि खराब करने वाले पी दासरथी और विकास तिवारी पर मेहरबान रहने वाले ... बिलासपुर: ठगी के आरोपी विशाल संतोष सिंह, संतोष सियाराम सिंह और नूतन संतोष सिंह को गिरफ्तार करने में ...
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772