ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

लोकसभा सीटों के लिए उपचुनाव मतपत्रों से हो : अखिलेश …..

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मांग की है कि उत्तर प्रदेश में लोकसभा सीटों के लिए होने वाले उपचुनावों में मतदान ईवीएम के बजाय मतपत्र से कराने पर विचार किया जाए और इसके लिये वह जनवरी के दूसरे सप्ताह में विपक्षी दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे।

सपा के प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि अखिलेश के साथ पार्टी पदाधिकारियों की आज हुई बैठक में लोकसभा के होने वाले उपचुनावों-गोरखपुर और फूलपुर में ईवीएम के स्थान पर मतपत्रों से मतदान कराने पर चर्चा की गई। बैठक में अखिलेश ने कहा कि निष्पक्ष एवं स्वतंत्र चुनाव के सम्बंध में जनता के मन में विश्वास होना चाहिए। ईवीएम के बारे में तमाम शंकाए हैं, अत अब बैलेट पेपर से मतदान होना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में स्वस्थ परम्पराओं और विश्वसनीय तथा पारदर्शी व्यवस्था से ही जनता का भरोसा अर्जित होता है, ईवीएम मशीनों से जनता का विश्वास खण्डित हुआ है। चुनावों में कई जगह ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी की शिकायतें आती रही है। मतदान में कुल मतदाता संख्या और पड़े हुए मतों में अंतर की भी शिकायतें मिलीं। यह स्थिति जनतंत्र के लिए खतरे का संकेत है। 

सपा का दावा है कि प्रदेश में हाल ही में हुये निकाय चुनाव में जहां मतपत्रों से मतदान हुआ है वहां भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशियों को कम वोट मिले थे। प्रवक्ता ने कहा कि सपा मानती है कि आज देश में जिस एकाधिकारी राजनीति को बढ़ावा दिया जा रहा है वह लोकतंत्र के लिए स्वस्थ लक्षण नहीं है। 

इस संबंध में विपक्ष के बीच साझा विचार होना समय की आवश्यकता है इसीलिए अखिलेश ने विपक्ष के साथ मिलकर निष्पक्ष एवं स्वतंत्र मतदान के लिए मत पत्र की मांग को बल देने की दिशा में कदम बढ़ाया है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772