ई-वे बिल बनाने के पहले चरण में सरकार ने इन पांच राज्यों को चुना……

नई दिल्ली। राज्यों के बीच ई-वे बिल बनाने में गुजरात, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश तथा केरल का संयुक्त रूप से योगदान 61 प्रतिशत है। जीएसटी नेटवर्क (जीएसटीएन) ने कल यह कहा। गौरतलब है कि एक अप्रैल से एक राज्य से दूसरे राज्यों में 50,000 रुपए से अधिक मूल्य के सामान को लाने- ले जाने के लिए इलेक्ट्रानिक वे या ई-वे बिल अनिवार्य हो गया है।

जीएसटीएन ने एक बयान में कहा, ” गुजरात, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश तथा केरल इस मामले में आगे रहा है और ई- वे बिल सृजन के मामले में शीर्ष राज्यों के रूप में उभरा है। देश में आठ अप्रैल तक सृजित कुल ई- वे बिल में इन पांच राज्यों की हिस्सेदारी 61 प्रतिशत है।’’

यह संयोग है कि सरकार ने पहले चरण में वस्तुओं की राज्य के भीतर माल ढुलाई के लिए ई- वे बिल के क्रियान्वयन को लेकर इन्ही पांचों राज्यों को चुना है। गुजरात, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश तथा केरल 15 अप्रैल से राज्यों के भीतर ई – वे बिल सृजित करना शुरू करेंगे। कुल मिलाकर कल तक 63 लाख ई – वे बिल सृजित किए गए हैं। कर्नाटक एकमात्र राज्य है जिसने एक अप्रैल से वस्तुओं की राज्य के भीतर परिवहन के लिए ई- वे बिल व्यवस्था लागू की है।

ब्रेकिंग
बिलासपुर: अधिवक्ता प्रकाश सिंह की शिकायत पर एडिशनल कलेक्टर कुरुवंशी ने जाँच के बाद दुष्यंत कोशले और ... बिलासपुर: सारनाथ एक्सप्रेस दिसंबर से फरवरी तक 38 दिन रद्द, यात्रियों की बढ़ेगी मुश्किलें बिलासपुर: भाजपा-कांग्रेस के नेता नूरा-कुश्ती के तहत आदिवासी को ही चाहते हैं निपटाना: नेताम बिलासपुर: खमतराई की खसरा नंबर 561/21 एवँ 561/22 में से सैय्यद अब्बास अली, मो.अखलाख खान, शबीर अहमद, त... बिलासपुर: पति की अनुपस्थिति में दीनदयाल कॉलोनी निवासी लक्की खान ने पत्नी के साथ कर दी अश्लील हरकत, ज... बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! इन मामलों की जाँच अपने निगरानी में करवाइए, तभी इसमें संलिप्त जमीन दलालों क... बिलासपुर: बड़ी संख्या के साथ संघ ने निकाला पथ संचलन, जय श्री राम के जयघोष से गूंज उठा बुधवारी फुटबॉल... बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! शासन की छवि खराब करने वाले पी दासरथी और विकास तिवारी पर मेहरबान रहने वाले ... बिलासपुर: ठगी के आरोपी विशाल संतोष सिंह, संतोष सियाराम सिंह और नूतन संतोष सिंह को गिरफ्तार करने में ... बिलासपुर: छत्तीसगढ़ के संस्कृति,सभ्यता और परंपरा से जुड़े हुए खेलों का संगम है छत्तीसगढ़िया ओलंपिक- ...
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772