ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

बिलासपुर: कांग्रेस के जिला सचिव बिहारी सिंह टोडर ने तखतपुर विधायक पर लगाया मुख्यमंत्री से नहीं मिलने देने का आरोप, कहा- सतनामी समाज के एक्शन से डर गई हैं रश्मि आशीष सिंह

बिलासपुर: तखतपुर विधानसभा क्षेत्र के भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान खपरी (तखतपुर) रेस्ट हाउस में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से अनुसूचित जाति(सतनामी) समाज के नेताओं को तखतपुर SDM मिलवाने वाले थे, पर नहीं मिलवाए. इस बात को लेकर छत्तीसगढ़ सतनाम महासंघ के बिलासपुर जिलाध्यक्ष व कांग्रेस के जिला सचिव बिहारी सिंह टोडर ने तखतपुर विधायक रश्मि आशीष सिंह के खिलाफ फिर से मोर्चा खोल दिया है.

बिहारी सिंह टोडर का कहना है कि जब एडिशनल एस.पी.(ग्रामीण),एस.डी.एम (तखतपुर), एस.डी.ओ.पी.(कोटा, तखतपुर), टी.आई.(कोटा) की उपस्थिति में एस. डी.एम.कार्यालय तखतपुर में सामाजिक नेताओं के साथ 17 जनवरी शाम 4 बजे एक घंटे तक आवश्यक बैठक हुई और सतनामी समाज के नेताओं को मुख्यमंत्री से मिलाने पर सहमति बनी. बावजूद इसके नहीं मिलवाना, समझ में आता है कि अधिकारी विधायक रश्मि आशीष सिंह के इशारे पर निर्णय को बदल दिए .

टोडर ने कहा कि तखतपुर विधायक को डर है कि मुख्यमंत्री के सामने कहीं सतनामी समाज उनका और भी भेद न खोल दे, इसलिए वे हम लोगों को मिलने नहीं दी और जिन्हें मुखिया बनाकर मुख्यमंत्री से मिलाया गया वे सामान्य  लोग थे और तखतपुर विधायक की  झूठी तारीफ कर रहे थे.

 बिहारी सिंह ने कहा कि सच्चाई तो तब सामने आयेगी जब सी.एम. तखतपुर क्षेत्र के वास्तविक जनता से मिलेंगे. टोडर ने कहा कि गौर करने वाली बात है कि भेंट मुलाकात कार्यक्रम बेलपान, खैरी और रेस्ट हाउस में मिलने वालों ने तखतपुर विधायक के कार्यों की तारीफ नहीं की, मतलब साफ है, विधायक से जनता नाखुश है.

 बिहारी सिंह टोडर ने कलीयर किया कि  हम मुख्यमंत्री से किसी की शिकायत करने नहीं, अपनी बातों को एवँ कुछ समस्या को लेकर मिलना चाहते थे, किंतु हमारे प्रतिनिधि मंडल को मिलने नहीं दिया गया.

टोडर ने बताया कि अब हमारी एक 21 सदस्यीय मुखियाओं का प्रतिनिधि मण्डल इन सभी बातों को लेकर कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, सोनिया गांधी,राहुल गांधी, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से अलग से समय लेकर मुलाकात करेगा.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772