ब्रेकिंग
बिलासपुर: समाज के चहुँमुखी विकास के लिए दृढ़ संकल्पित होकर काम करूंगी - स्नेहलता बिलासपुर: एसपीजी नहीं चाहती कि मोदी की सभा में मीडिया आए... कहीं निपटाने के खेल तो नहीं चल रहा... इस... बिलासपुर: आंगनबाड़ी सहायिका के पदों पर भर्ती हेतु आवेदन 13 अक्टूबर तक बिलासपुर: अधिवक्ताओं का धरना प्रदर्शन रायपुर में 27 को बिलासपुर: तेलीपारा में महेंद्र ज्वेलर्स शोरूम के सामने गणेश समिति के सोम कश्यप, संजू कश्यप, अरुण कश्... CG: 309 पत्रकारों को दी जाने वाली छूट की राशि 6 करोड़ 37 लाख 20 हजार 450 रूपए स्वीकृत रायपुर में तैयार हुई छत्तीसगढ़ की पहली टेनिस एकेडमी बिलासपुर: कोरबा के बलगी में रहने वाले रमेश सिंह के फरार बेटे विक्रम को सिविल लाइन पुलिस ने किया गिरफ... बिलासपुर: भाजपा की परिवर्तन यात्रा 26 सितंबर को बेलतरा पहुंचेगी, केंद्रीय राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी... बिलासपुर: राहुल गांधी आज "आवास न्याय सम्मेलन" में होंगे शामिल, जानिए मिनट टू मिनट कार्यक्रम

बेटों पर लग रही बिसात…..

 बिलासपुर/जिले में वर्ष 2018 के चुनाव की बिसात रोज बिछती है, नेताओं की भी चले तो इस बार नई पीढ़ी को टिकट मिलेगी, पर यह परिवारवाद की ही बात है। बिल्हा में सियाराम कौशिक के पुत्र जितेंद्र, धरमलाल के पुत्र राजेंद्र, बद्रीधर के पुत्र विजयधर के लिए नेता पिता जोर लगा रहे हैं। इसमें एक पुत्री भी है जो अपनी विरासत मांग रही है वह है मनहरण पांडे की पुत्री हर्षिता उनके पक्ष में दो बात, पहली पिता समर्पित भाजपाई रहे, दूसरा वह महिला आयोग से ज्यादा राजनीति में सक्रिय है सूत्र तो यहां तक बताते हैं कि शहर विधायक लाड़ले  नेता भी अपने कन्हैया को आगे बढ़ा रहे हैं पर मामला नहीं बन रहा है 2013 के विधानसभा चुनाव के वक्त भी भैया ने कन्हैया को मंत्र दिया पर बांसुरी बजी नहीं।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772