ब्रेकिंग
बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव... बिलासपुर: जाँच के दौरान कार में मिली 22 किलो 800 ग्राम कच्ची चाँदी, व्यापारी के द्वारा पेश किया गया ... बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ के पदाधिकारियों ने मंत्री जयसिंह अग्रवाल को दिया नववर्ष मिलन सम... बिलासपुर: पत्रकार शाहनवाज की सड़क हादसे में मौत, सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ ने शोक व्यक्त कर दी श्रद्... बिलासपुर: रतनपुर थाना क्षेत्र में कार में 3 जिंदा जले, पेड़ से टकराने के बाद कार में लगी आग, अंदर ही ...

बेटे से बिछड़कर करनाल पहुंच गई वृद्धा, बिलासपुर पुलिस ने मिलाया…..

बिलासपुर। अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो तो पूरी कायनात उसे आपसे मिलाने की कोशिश करती है, ओम शांति ओम का यह डायलॉग सुनने में जरूर फिल्मी है मगर असल जिंदगी में बैसाखा बाई का जीवन इसका जीता जागता उदाहरण है।
बैसाखा बाई 80 वर्षीय वृद्ध महिला है जो दिल्ली में रहने वाले अपने बेटे सरवन के यहां से भटककर करनाल पहुंच गई थी, यहां भूपेन्द्र नाम के युवक से उसकी मुलाकात हुई, भपेन्द्र ने बैसाखा बाई के बारे में व्हाट्सएप में घरवालो का पता लगाने के लिए वीडियो बनाकर वायरल किया, इस माध्यम से छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिला व थाना रतनगढ़ का होने की सूचना उभरकर आई, इस वीडियो को पुलिस अधीक्षक बिलासपुर आरिफ़ एच शेख़ ने गम्भीरता से लेते हुए उक्त वीडियो क्लिपिंग को थाना प्रभारी रतनपुर को भेजकर परिजनों का पता लगाने का निर्देश दिया।
मामले को संज्ञान में लेते हुए एसपी के निर्देश का पालन करते हुए थाना प्रभारी रतनपुर द्वारा महिला बैशाखा बाई के परिजनों का पता लगवाया गया, इसमे पता चला कि उक्त महिला का ससुराल ग्राम बुडेना जांजगीर-चाम्पा एवं मायका ग्राम बसहा थाना सीपत जिला बिलासपुर का पता चला। 
तफ़्तीश में यह बात सामने आई कि बैशाखा बाई की बड़ी बेटी जवा बाई, बालको में नौकरी करती है इसकी जानकारी प्राप्त होने पर तलब कर उसके साथ पुलिस बल भेजकर बिलासपुर पुलिस ने करनाल पहुंच कर बैसाखा बाई को बरामद कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772