ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

SC/ST एक्ट: हिंसक हुआ भारत बंद…..

नई दिल्ली। एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में सोमवार को बुलाए गए भारत बंद के दौरान देशभर के कई राज्यों में आंदोलन के हिंसक हो गया। साथ ही कई क्षेत्रों में कर्फ्यू भी लगा दिया गया है।

घटना के दौरान कई वाहनों में आग लगा दी गई साथ ही कई बसों के शीशे भी तोड़ दिए गए। उधर मेरठ में एक पुलिस चैकी को आग लगा दी गई। सुबह से जारी विरोध प्रदर्शन और पुलिस की कार्रवाई में अभी तक लगभग आधा दर्जन लोग जान गंवा चुके हैं। मध्य प्रदेश में चार, राजस्थान में एक और उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद से भी एक शख्स की मौत होने की  सूचना आ रही है। पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर और मध्य प्रदेश के भिंड में दो गुटों में हुई झड़प में करीब 30 लोग जख्मी हुए हैं। पंजाब, बिहार, और ओडिशा में भी बंद का व्यापक असर है। यहां प्रदर्शनकारियों ने न सिर्फ रेल यातायात को प्रभावित किया है बल्कि सड़क जाम कर परिवहन व्यवस्था को भी नुकसान पहुंचाया है। 

पटना सहित राज्य के सभी जिलों में बंद का मिला जुला असर है। प्रदेश के दरभंगा, भोजपुर, गया, नवादा, जहानाबाद, पूर्णिया, बेतिया, बेगूसराय, बक्सर, रोहतास समेत कई जिलों में बंद समर्थकों ने रेल पटरियों पर धरना देकर रेल परिचालन बाधित कर रखा है।

मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में भी बंद के दौरान गोलीबारी में एक युवक की मौत हो गई। मृतक की पहचान स्थानीय रामनगर निवासी बलदाऊ पाठक के पुत्र राहुल पाठक (20) के तौर पर हुई है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि युवक राहुल पाठक बंद के दौरान अपने घर के बाहर खड़ा था। इसी दौरान उसे उपद्रवियों की गोली लग गई, उसे फौरन अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

उधर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज बताया कि केंद्र सरकार ने अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति(अत्याचार निवारण) अधिनियम को कमजोर करने के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर कर दी है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772