इन मामलों की सुनवाई पर छह महीने से अधिक रोक नहीं लगा सकतीं अदालतें…..

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को फैसला सुनाया कि भ्रष्टाचार या आपराधिक मामलों से संबंधित सुनवाई पर अब कोई भी अपीलीय अदालत स्पष्ट आदेश के बिना छह महीने से अधिक समय तक रोक लगाकर नहीं रख सकती।

शीर्ष अदालत ने कहा कि किसी मामले विशेषकर भ्रष्टाचार मामलों की सुनवाई की कार्यवाही पर रोक की शक्ति के प्रयोग में  संयम बरता जाना चाहिए।

न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल, न्यायमूर्ति नवीन सिन्हा और न्यायमूर्ति आरएफ नरीमन की पीठ ने कार्यवाही पर रोक की समयसीमा तय की और कहा कि किसी मामले के शीघ्र निपटारे के विधायी आदेश का सम्मान होना चाहिए।

अदालत ने फैसला सुनाया कि भ्रष्टाचार या दीवानी या आपराधिक मामले से संबंधित लंबित सुनवाई में किसी अपीलीय अदालत द्वारा कार्यवाही पर रोक स्पष्ट आदेश के बिना बुधवार से ही छह महीने से अधिक समय तक लागू नहीं होगी/

google-s.j.

ब्रेकिंग
बिलासपुर: सदर बाजार, गोल बाजार और शनिचरी मार्केट में अतिक्रमण के खिलाफ की गई कार्रवाई CG: 16 साल बाद भी पिथौरा दंगा पीड़ितों को नहीं मिला मुआवजा : रिजवी रायपुर: छत्तीसगढ़ प्रदेश आर्चरी एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष कैलाश मुरारका ने खेल एवं युवा कल्याण विभाग... बिलासपुर: पत्रकारों को मौत के घाट उतारने की साजिश रची थी इस महिला ने, जानिए किसने कहा, देखिए VIDEO बिलासपुर: चकरभाठा थाना के सामने खड़ी कोयला से भरे ट्रक में लगी आग, पुलिस ने पाया काबू, देखिए VIDEO बिलासपुर: मुख्यमंत्री ने किया संभाग स्तरीय सी-मार्ट का लोकार्पण बिलासपुर: कोतवाली सीएसपी पूजा कुमार को सौंपा गया लाइन अटैच आरक्षकों की जांच का जिम्मा बिलासपुर: छत्तीसगढ़ से दो हजार किसान जाएंगे दिल्ली बिलासपुर: कमीशन वसूल करवाने वाला शख्स विक्रम कौन...? बिलासपुर: प्रदेश का सबसे बड़ा पत्रकार संघ "सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़" के प्रतिनिधि मंडल से दूसरी बार...
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772