ब्रेकिंग
बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव... बिलासपुर: जाँच के दौरान कार में मिली 22 किलो 800 ग्राम कच्ची चाँदी, व्यापारी के द्वारा पेश किया गया ... बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ के पदाधिकारियों ने मंत्री जयसिंह अग्रवाल को दिया नववर्ष मिलन सम... बिलासपुर: पत्रकार शाहनवाज की सड़क हादसे में मौत, सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ ने शोक व्यक्त कर दी श्रद्... बिलासपुर: रतनपुर थाना क्षेत्र में कार में 3 जिंदा जले, पेड़ से टकराने के बाद कार में लगी आग, अंदर ही ...

कुर्सी जाती देख मंत्री जी कांग्रेसियों पर निकाल रहे अपनी भड़ासः शिवा मिश्रा….

बिलासपुरिया दो दशक से कर रहे बर्दाश्त, इन सालों में शहर का सत्यानाश करने नहीं छोड़ी कोई कसर

 

बिलासपुर। नगरीय प्रशासन अमर अग्रवाल की पदयात्रा के साथ ही शहर में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है। बीते दो दशक से बिलासपुर सीट पर कब्जा जमाए मंत्री जी को उखाड़ फेंकने जहां कांग्रेस कोई कसर नहीं छोड़ रही है तो वहीं मंत्री जी के साथ उनके समर्थक पलटवार करने से नहीं चूके रहे हैं।
इसी कड़ी में कांग्रेस के शिवा मिश्रा ने मंत्री जी पूर खूब निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नगर विधायक द्वारा अपनी कुर्सी जाती देख चांटीडीह में कांग्रेसियांे पर की गई टिप्पणी उनकी झल्लाहट को प्रदर्शित करती है। उन्होंने कहा कि शहर के लोगों ने बीते दो दशक से उन्हें बहुत बर्दाश्त किया है। मैनेजमेंट से चुनाव जीतकर उन्होंने अरपा सिम्स बिलासपुर के पेड़ों की जो अंधाधुंध कटाई कराई है। उनके कार्यकाल में गरीबों की न जाने कितनी झोपड़ियां और दुकानें उजड़े हैं। सीवरेज के गड्ढों में गिरकर कई घरों के चिराग बूझे हैं। लोगों को हड्डियों से संबंधी रोग हुए हैं। धूल खाकर लोगों को अस्थमा ब्रोंकाइटिस जैसी फेफड़ों की बीमारियों से दवाइयों का खर्च बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि रायपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर तिफरा का त्रूटिपूर्ण पुल के जाम में फंसकर लोगों का पेट्रोल और समय बर्बाद हुआ है। संपत्ति कर, पानी कर व बिजली की दरें बेतहाशा बढ़ी है। शहर में केवल बाहर से आये ठेकेदारों द्वारा मनचाहा काम कर जनता के पैसों की बर्बादी की जा रही है। अमृत मिशन के तहत खूंटाघाट के किसानों ने फसलें लगाई, पर उनके लिए ही पानी नहीं है। ऐसे में बिलासपुर के लिए पानी लाने की योजना फाइलों में दम तोड़ रही है। पूरे शहर में पाइप का अंबार है, जिसके लिए फिर शहर को खोदे जाने की तैयारी है। यदि इन सब बातों का जवाब बिलासपुरियों द्वारा मांगा जाता है तो गलत क्या है। हमारा बिलासपुर विकास की दौड़ में काफी पिछड़ गया है। इसका दुख भी बिलासपुरियों को है।

ये पब्लिक है, सब जानती है?

शिवा मिश्रा ने कहा कि सुकमा में शहीद 9 जवानों को श्रद्धांजलि, जवानों की शहादत और छत्तीसगढ़ सरकार की नक्सल विरोधी नीति की असफलता को दर्शाती है। केवल 1 दिन पहले प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने भारी सुरक्षा के बीच बस्तर में बाइक रैली का स्वांग किया था और अब अपनी लोकसुराज यात्रा को रोककर फिर वही आपात बैठक और कार्यवाही करने का घिसा-पीटा किस्सा दोहरा रहे है। लेकिन इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बीच भी उनके वरिष्ठ मंत्री और बिलासपुर को खोदापुर एवं धूलपुर की ख्याति दिलवाने वाले हमारे विधायक जी गडढों व धूल से परेशान, हड्डियों एवं सांस की बीमारियों से ग्रसित बिलासपुरियों के बीच गाजे-बाजे और लाव लश्कर के साथ जाकर जनता की समस्याओं को सुन उन्हें लुभाने का प्रयास कर रहे है। दूसरी ओर, बिलासपुर की अव्यवस्था से त्रस्त जनता फिल्म रोटी की गीत ये जो पब्लिक है ये सब जानती ह,ै विधायक जी के अंदर क्या है और बाहर क्या है वो सब पहचानती है गाने के मूड में है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772