ब्रेकिंग
बिलासपुर: समाज के चहुँमुखी विकास के लिए दृढ़ संकल्पित होकर काम करूंगी - स्नेहलता बिलासपुर: एसपीजी नहीं चाहती कि मोदी की सभा में मीडिया आए... कहीं निपटाने के खेल तो नहीं चल रहा... इस... बिलासपुर: आंगनबाड़ी सहायिका के पदों पर भर्ती हेतु आवेदन 13 अक्टूबर तक बिलासपुर: अधिवक्ताओं का धरना प्रदर्शन रायपुर में 27 को बिलासपुर: तेलीपारा में महेंद्र ज्वेलर्स शोरूम के सामने गणेश समिति के सोम कश्यप, संजू कश्यप, अरुण कश्... CG: 309 पत्रकारों को दी जाने वाली छूट की राशि 6 करोड़ 37 लाख 20 हजार 450 रूपए स्वीकृत रायपुर में तैयार हुई छत्तीसगढ़ की पहली टेनिस एकेडमी बिलासपुर: कोरबा के बलगी में रहने वाले रमेश सिंह के फरार बेटे विक्रम को सिविल लाइन पुलिस ने किया गिरफ... बिलासपुर: भाजपा की परिवर्तन यात्रा 26 सितंबर को बेलतरा पहुंचेगी, केंद्रीय राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी... बिलासपुर: राहुल गांधी आज "आवास न्याय सम्मेलन" में होंगे शामिल, जानिए मिनट टू मिनट कार्यक्रम

जेल में पुत्र से हुए विवाद का बदला लेने पिता पर किया 15 लोगों ने जानलेवा हमला, पुलिस ने 11 आरोपियों को किया गिरफ्तार……


बिलासपुर। घर घुसकर जानलेवा हमला करने वाले 11 आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं मामले के तीन अन्य आरोपी फरार हैं, जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। पुलिस ने हमला में प्रयुक्त धारदार चाकू, डंडा, एयर पिस्टल, बुलेट, स्कूटी, स्प्लेंडर आदि जब्त कर लिया है।
पुलिस के अनुसार, सीएसईबी कालोनी तिफरा निवासी बिसरूराम निर्मलकर बीते 9 मार्च की रात 8.40 बजे अपनी पत्नी के साथ था। इसी दौरान अज्ञात व्यक्ति आकर मिथुन गुप्ता नामक व्यक्ति का पता पूछने लगा। इसी दौरान बिसरूराम की पत्नी कमरे से निकलकर बात कर रही थी। उसके पीछे बिसरूराम खड़ा था। उसकी पत्नी पता बता ही रहा था कि तभी दो अज्ञात लोगों ने चाकू से हमला कर दिया। इससे बिसरूराम गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना की सूचना पर आईजी दीपांशु काबरा व एसपी आरिफ शेख ने मामले को गंभीरता से लेते हुए एएसपी शहर नीरज चंद्राकर व नगर एसपी नसर सिद्धकी ने आरोपियों की तलाश करने क्राइम ब्रांच की टीम को लगाया। जांच के दौरान बिसरूराम की पत्नी से पूछताछ करने पर पता चला कि घटना दिनांक की सुबह करीब साढ़े दस बजे वही दो युवक आए थे और दसरूराम के संबंध में पूछताछ कर रहे थे। उस समय बिसरूराम के घर पर नहीं होने के कारण वे चले गए थे। जांच के दौरान के दौरान पता चला कि वर्ष 2014 से दसरूराम के तीन पुत्र नवीन, तारण व प्रमोद हत्या मामले में जेल में है। क्राइम ब्रांच की टीम ने जेल से भी जानकारी ली। इसी तरह दसरूराम के किसी से दुश्मनी होने को लेकर भी पड़ताल की गई। क्राइम ब्रांच प्रभारी हेमंत आदित्य, प्रआ अशोक मिश्रा, अशोक चैरसिया, धनेश साहू, विनोद यादव, अनिल साहू, आरक्षक सरफराज खान, आशीष राठौर, तरूण केशरवानी, विकास यादव सहित टीम ने घटनास्थल की बारीकी से जांच की। वहीं अलग-अलग टीम बनाकर आसपास के लोगों से बारीकी से पूछताछ की गई। तब जानकारी मिली कि बीते 9 मार्च को घटना स्थल पर करीब 10 बजे बाइक व स्कूटी में 12 से 13 लड़के मुंह में कपड़ा बांधकर संदिग्ध हालत में घूम रहे थे। क्राइम ब्रांच की टीम ने शहर के कई स्थानों में लगे सीसीटीवी कैमरे चेक किए। इसी दौरान जानकारी मिली कि केंद्रीय जेल में हत्या के प्रकरण में बंद बिलासपुर निवासी गणेश तिवारी कुछ दिन पूर्व पेरोल में रिहा हुआ है, जिसे घटना समय में आसपास संदिग्ध अवस्था में अपने साथियों के साथ घूमते देखा गया है। तस्दीक करने पर पता चला कि गणेश तिवानी ने अपने साथी अज्जू खान, रोहन मोरे आदि के साथ मिलकर बिसरूराम पर जानलेवा हमला किया है। वहीं पेरोल अवधि के बाद वह पुनः जेल दाखिल हो गया है। क्राइम ब्रांच की टीम ने बारी-बारी से कुल 11 लोगों को पकड़ा। इन्होंने पूछताछ में बताया कि गणेश तिवारी जब पेरोल के जरिए जेल से बाहर आया तो उसने सभी आरोपियों को एकत्र किया। जेल में उसका नवीन तारण व प्रमोद निर्मलकर से विवाद हुआ था। इसी का बदला उसके पिता बिसरूराम की हत्या कर लेने की साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया गया। उन्होंने बताया कि सुबह उस पर हमला करने की योजना थी, लेकिन उस समय वह नहीं मिला। इसलिए रात को घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस ने मामले में आरोपियों को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त हथियार व वाहन जब्त कर लिया है।

इन्होंने दिया घटना को अंजाम

पकड़े गए आरोपियों में सिरगिट्टी निवासी शेख अजहर उर्फ अज्जू खान, बंगलायार्ड बिलासपुर निवासी रोहन मोरे, सिरगिट्टी निवासी गोपी कौशिक, यहीं का आशुतोष रामटेके उर्फ वासु, सुमित सहगल, लक्ष्मी चैहान, तिफरा निवासी विकास धीवर, धुमा नयापारा निवासी प्रेमकुमार शुक्ला, सिरगिट्टी निवासी विनोद श्रीवासी, तोरवा निवासी रवि निषाद, सरकंडा निवासी आयुष महापात्र शामिल है। वहीं फरार आरोपियों में तोरवा निवासी सोनू उर्फ सलीम खान, गणेश यादव व सिरगिट्टी निवासी रवि यादव श्ज्ञामिल है। वहीं घटना के मास्टर माइंड सिरगिट्टी निवासी गणेश तिवारी पिता नत्थूलाल जेल में है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772