ब्रेकिंग
बिलासपुर: SECL के गेस्ट हाउस की बिजली गुल, केन्द्रीय राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे पसीना पोंछते हु... कला विकास केंद्र बिलासपुर की छात्रा साई श्री इजारदार कथक में केंद्रीय छात्रवृत्ति के लिए चयनित बिलासपुर: कोटवार, पटवारी और राजस्व अधिकारी के रहते रमतला की सरकारी जमीन आरोपी प्रवीण पाल के नाम से क... बिलासपुर: 5 सरपंच एवं 12 पंच पदों के लिए 27 जून को उप चुनाव बिलासपुर: इस TI ने पुलिस की छवि को किया धूमिल, आम लोग दहशत में बिलासपुर के कराते खिलाड़ियों ने 44 स्वर्ण, 22 रजत एवं 21 कांस्य पदक जीतकर जिले का नाम किया रोशन बिलासपुर: यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा 28 मई को बिलासपुर में, 36 दिव्यांग सहित 5532 परीक्षार्थी 22 ... बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा की माँग पर दो सड़कों के लिए 61 लाख रुपए हुए स्वीकृत बिलासपुर: दिल्ली की तरह छत्तीसगढ़ में भी मिले शहीद जवानों को एक करोड़ मुआवाजा- उज्वला कराड़े बिलासपुर: अरपापार पृथक नगर निगम की माँग को जनता का मिल रहा पूर्ण समर्थन- पिनाल

लोक सुराज अभियान पहली प्राथमिकताः कमिश्नर महावर, बिलासपुर संभाग के सभी कलेक्टर-एसपी सहित अफसरों की ली बैठक


बिलासपुर। संभागायुक्त टीसी महावर ने बुधवार को मुंगेली जिले के वनांचल बैगा रिसाॅर्ट ग्राम शिवतराई में बिलासपुर संभाग के कलेक्टर, एसपी, डीएफओ, जिला पंचायत सीईओ तथा विकास व निर्माण कार्यो से जुड़े संभाग स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज और शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की।

उन्होने सभी कलेक्टर और जिला पंचायत सीईओ को निर्देशित किया कि लोक सुराज अभियान शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है तथा प्रथम चरण संकलन शिविर में आमजनों से प्राप्त आवेदन पत्रों का सकारात्मक व गुणवत्तापूर्वक निराकरण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि लोक सुराज अभियान के तीसरे चरण में समाधान शिविर आयोजित किए जाएंगे। मंत्रियों, सांसद, विधायकों की पदयात्रा भी होगी। मैदानी स्तर के अधिकारी-कर्मचारियों को मौके पर तैनात रहने निर्देशित करें। शासन की विभिन्न योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन एवं विकास कार्यो में गति लाने अधिकारियों को निर्देश दें। उन्होंने आगामी निर्वाचन के मद्देनजर कानून व्यवस्था बनाये रखने, अपराध नियंत्रण एवं प्रतिबंधात्मक कार्यवाही के लिए सभी कलेक्टर व एसपी को निर्देश दिए। इस मौके पर बिलासपुर संभाग के आईजी दीपांशु काबरा एवं मुख्य वन संरक्षक बी आनंद बाबू विशेष रूप से उपस्थित थे। बैठक में स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त संचालक के अनुपस्थित रहने पर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करने निर्देश दिया गया। कमिश्नर श्री महावर ने कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए कहा कि राजस्व अधिकारी और पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से भ्रमण करें। असामाजिक तत्वों के विरूद्ध जिला बदर की कार्यवाही सुनिश्चित करें। शांति भंग की संभावना होने पर अपराधियों से बाण्ड ओव्हर अवश्य भरवायें। उन्होने सभी एसपी से अपराध प्रकरण व कानून व्यवस्था के संबंध में जिलेवार जानकारी ली। स्कूलों में अध्ययनरत विद्यार्थियों, आश्रम छात्रावासों में रहने वाले विद्यार्थियों की सुरक्षा व्यवस्था के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। श्री महावर ने राजस्व प्रकरणों के निपटारे नामांतरण, बंटवारा, डायवर्सन नजूल, भू-अभिलेख सुधार, सीमांकन, खाता विभाजन, भू-अर्जन, बकाया वसूली के प्रगति की समीक्षा की तथा नामांतरण, बंटवारा के प्रकरणों के निराकरण के लिए सभी कलेक्टर को निर्देश दिये गये। बैठक में बिलासपुर कलेक्टर पी. दयानंद, जांजगीर-चांपा कलेक्टर डाॅ. एस भारतीदासन, कोरबा कलेक्टर मो. कैसर अब्दुलहक सहित संभाग के सभी एसपी, डीएफओएवं संभाग स्तरीय विभिन्न विभागांे के अधिकारी उपस्थित थे।

सार्वजनिक स्थानों से हटवाए अतिक्रमण

कमिश्नर ने पंचायतीराज व्यवस्था के तहत सरपंचों से बकाया वसूली, लोक न्यास, शाला उपकर, नजूल भू-भाटक, अधोसंरचना मद के बकाया वसूली के लिए संबंधित कलेक्टरों को निर्देश दिए। भुईया कार्यक्रम के तहत नक्शा, खसरा प्रदान किये जाने एवं आधार सीडिंग कार्य की समीक्षा की। आधार सीडिंग कार्य में प्रगति लाने बिलासपुर, रायगढ़, कोरबा के कलेक्टर को निर्देश दिये गये। उन्होने सभी कलेक्टर निर्देशित किया कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों का पालन सुनिश्चित करें तथा सार्वजनिक स्थलों से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही करें। संभागायुक्त ने सभी कलेक्टर से कहा कि टूर डायरी और राजस्व प्रकरणों के निराकरण की मासिक जानकारी हर माह 5 तारीख तक अवश्य उपलब्ध करायें।

अच्छा कार्य करने पर कलेक्टरों की सराहना

संभागायुक्त श्री महावर ने जिला पंचायतों के सभी सीईओ से मनरेगा के कार्यो एवं मजदूरी भुगतान की जानकारी ली। उन्होने कहा कि मजदूरी भुगतान किसी भी तरह की समस्या होने पर अवगत करायें। सीईओ ने बताया कि मजदूरी भुगतान के लिए राशि प्राप्त हो गई है और शेष मजदूरी भुगतान किए जाएंगे। उन्होने पीएम आवास व कौशल विकास योजना की भी समीक्षा की। इन योजनाओं में लक्ष्य के विरूद्ध रायगढ़ जिले में प्रगति कम पाया गया। मुख्यमंत्री की घोषणाओं, कुपोषित बच्चों की स्थिति, संस्थागत प्रसव की जानकारी ली। बैठक में बताया गया कि संस्थागत प्रसव में जांजगीर-चांपा जिले में अच्छा कार्य हुआ है। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ में बेहतर कार्य के लिए राष्ट्रीय अवार्ड मिलने पर रायगढ़ कलेक्टर की सराहना की गई।

आरटीआई का प्रभावी क्रियान्वयन किया जाए

संभागायुक्त ने अफसरों से कहा कि आरटीआई के आवेदनों को प्राप्त कर तय सीमा में आवेदक को सूचना अवश्य दें। अपीलीय अधिकारियों और जनसूचना अधिकारियों की बैठक व प्रशिक्षण तीन माह में एक बार अवश्य करें। छत्तीसगढ़ लोक सेवा गारण्टी अधिनियम के प्रकरणों की समीक्षा करें। उन्होने जिला पंचायतों के सीईओ से कहा कि हर ग्राम पंचायतों में एक क्विंटल चावल अवश्य रखवायें। उन्होने कलेक्टरों से कहा कि संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत मतदाता सूची में नाम जोड़ने व काटने का कार्य सुनिश्चित करें। उन्होने विद्युत विभाग के अधीक्षण यंत्री से मांग पत्र की जानकारी ली। लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण यंत्री से मुंगेली से गिधा तक डामरीकरण कार्य, डिवाइडर एवं बायपास सड़क के संबंध में जानकारी ली गई। उन्होंने नेशनल हाइवे, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क, मुख्यमंत्री ग्राम सड़क एवं ग्रामीण यांत्रिकी विभाग के अधिकारियों से कहा कि संभावित दुर्घटना स्थल की सूची दें और दुर्घटनाजन्य क्षेत्र चिन्हित कर रेडियम व बोर्ड लगवाये। पुलिस अधीक्षकों ने अपने-अपने जिले में होने वाले दुर्घटनाओं के संबंध में अवगत कराया।

दुर्लभ प्रजाति आम के पौधे लगाएं

कमिश्नर श्री महावर ने सभी डीएफओ से कहा कि हरियर छत्तीसगढ़ योजना के तहत नर्सरी लगाने की तैयारी कर लें। उन्होने अधिकारियों से कहा कि किसानों से संपर्क कर खेत किनारे सड़कों में दुर्लभ प्रजाति के आम के पौधे लगवाएं। सड़क निर्माण के लिए पेड़ कटाई के संबंध में चर्चा की गई। उन्होंने क्रेडा विभाग के अधिकारी से कहा कि लमनी, छपरवा सहित अन्य स्थानों में स्थापित सौर ऊर्जा पैनल का सुधार करायें। पीएचई के अधीक्षण यंत्री को निर्देशित किया कि मोबाइल यूनिट को प्रभावशील बनायें तथा हैण्डपंप खराब होने की सूचना मिलने पर हैण्डपंप मैकेनिक तत्काल जाकर सुधारें। बैठक में बताया गया कि रायगढ़ जिले में जिला बदर के 28 और जांजगीर-चांपा में 3 प्रकरण दर्ज है। मुंगेली कलेक्टरएनएन एक्का ने कहा कि संभाग के कलेक्टरों, पुलिस अधीक्षकों, वनमण्डलाधिकारियों की बैठक आयोजित करने का मुंगेली जिले को सौभाग्य मिला है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772