गर्भवती महिला की पिटाई करने वाले डाॅक्टर को बचाने पूरा प्रशासन लगा हुआ हैः महिला कांग्रेस…..

बिलासपुर। सिम्स के डाॅक्टर द्वारा गर्भवती महिला के साथ की गई मारपीट के मामले में सिटी कोतवाली पुलिस ने गर्भवती महिला के आवेदन पर कोई कार्रवाई नहीं की। इससे नाराज जिला महिला कांग्रेस बिलासपुर की अध्यक्ष अनिता लवहात्रे एवं सीमा पाण्डे के नेतृत्व में महिला कांग्रेस के एक प्रतिनिधि मंडल ने कोतवाली थाना पहुंचकर थाना प्रभारी रघुनंदन प्रसाद शर्मा से मुलाकात की एवं मामले के संबंधी में जानकारी चाही। साथ ही मामले में एफआईआर दर्ज नहीं किए जाने पर लेकर कड़ी नाराजगी जताई।

शहर अध्यक्ष सीमा पांडे ने बताया कि इस मामले को लेकर जब सिम्स अधीक्षक डाॅ. रमणेश मूर्ति से मुलाकात की गई तो उन्होंने कहा कि मामला पुलिस को सौंप दिया गया है। इसलिए पुलिस कार्यवाही में मदद की जाएगी। वहीं पुलिस द्वारा चाही गई जानकारी मुहैया करा दी जाएगी। उस समय वहां मौजूद कोतवाली की महिला पुलिस ने भी इस बात का भरोसा दिलाया था कि मामले में निष्पक्ष जांच चल रही है। उस दौरान वहां पुलिस अधिकारी मेघा टेम्भुकर भी बल के साथ पहुंचे थे और उन्होंने पूछताछ की थी, लेकिन अब तक कोतवाली पहुंचकर कब तक अपराध दर्ज करेगी यह बताने की स्थिति में नहीं है। आवेदन को जांच में लेकर मामले को लंबित करने का प्रयास किया जा रहा है। प्रतिनिधि मंडल ने बताया कि कोतवाली थानेदार श्री शर्मा ने स्पष्ट रूप से कहा कि सिम्स प्रबंधन पुलिस को सहयोग नही कर रहा है।

जिला अध्यक्ष अनिता लवहात्रे व शहर अध्यक्ष सीमा पांडे ने कोतवाली पुलिस से निकलकर ने बताया कि आश्चर्य का विषय है कि एक महिला के साथ मारपीट होती है, वहीं महिला हिम्मत करके कोतवाली थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराती है। सभी समाचार पत्रों में प्रमुखता से उस महिला का बयान छपता है। लेकिन महिला के मामले मे छग शासन और जिला प्रशासन का रवैया निदंनीय है। महिला कांग्रेस ने घटना की जानकारी मिलते ही जिलाधीश को पत्र लिखा। सिम्स अधीक्षक को पत्र लिखा, उनसे मिली और आज कोतवाली पहुंचकर पुलिस अधिकारियों से मुलाकात की लेकिन कार्यवाही वहीं ढाक के तीन पात वाली है। डाॅक्टर को बचाने पूरा प्रशासन लगा हुआ है।

सीमा पांडे ने यह भी कहा कि अभी हाल ही में दिल्ली में मुख्य सचिव के साथ मारपीट की खबर आने पर दिल्ली सरकार के दो विधायक पुलिस के द्वारा जेल भेज दिए गए और दूसरी तरफ महिला स्वयं रिपोर्ट लिखा रही है तब भी शासन प्रशासन और पुलिस डाॅक्टर को नही खोज पा रही है। महिला कांग्रेस ने यह भी आश्चर्य प्रकट किया कि महिला आयोग की अध्यक्ष बिलासपुर में रहती है। भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष बिलासपुर में निवास करती हैं, लेकिन अभी तक महिला के पक्ष में कोई खड़ा नजर नही आ रहा है। महिला आयोग को संज्ञान में लेकर कार्यवाही करनी चाहिए।

प्रतिनिधि मंडल में श्रीमती मंजू त्रिपाठी, आशा पाण्डेय, सावित्री सोनी, प्रतिमा सहारे, अफरोज खान, अंजू सोनी, त्रिवेणी भोई, पुष्पा यादव, बबीता दुबे, दुर्गा मिश्रा, अर्चना सिंह आदि शामिल थीं।

ब्रेकिंग
बिलासपुर: अधिवक्ता प्रकाश सिंह की शिकायत पर एडिशनल कलेक्टर कुरुवंशी ने जाँच के बाद दुष्यंत कोशले और ... बिलासपुर: सारनाथ एक्सप्रेस दिसंबर से फरवरी तक 38 दिन रद्द, यात्रियों की बढ़ेगी मुश्किलें बिलासपुर: भाजपा-कांग्रेस के नेता नूरा-कुश्ती के तहत आदिवासी को ही चाहते हैं निपटाना: नेताम बिलासपुर: खमतराई की खसरा नंबर 561/21 एवँ 561/22 में से सैय्यद अब्बास अली, मो.अखलाख खान, शबीर अहमद, त... बिलासपुर: पति की अनुपस्थिति में दीनदयाल कॉलोनी निवासी लक्की खान ने पत्नी के साथ कर दी अश्लील हरकत, ज... बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! इन मामलों की जाँच अपने निगरानी में करवाइए, तभी इसमें संलिप्त जमीन दलालों क... बिलासपुर: बड़ी संख्या के साथ संघ ने निकाला पथ संचलन, जय श्री राम के जयघोष से गूंज उठा बुधवारी फुटबॉल... बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! शासन की छवि खराब करने वाले पी दासरथी और विकास तिवारी पर मेहरबान रहने वाले ... बिलासपुर: ठगी के आरोपी विशाल संतोष सिंह, संतोष सियाराम सिंह और नूतन संतोष सिंह को गिरफ्तार करने में ... बिलासपुर: छत्तीसगढ़ के संस्कृति,सभ्यता और परंपरा से जुड़े हुए खेलों का संगम है छत्तीसगढ़िया ओलंपिक- ...
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772