ब्रेकिंग
बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख

बिलासपुर पुलिस की दादागिरी नहीं थम रही, बच्चों पर बरसा रहे डंडे

FILE PHOTO

(तरुण कौशिक, कार्यकारी संपादक, डिसेंट रायपुर)

बिलासपुर। पूरा विश्व कोरोना  वायरस के कहर से सहमें हुए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कोरोना वायरस के बचाव के 14 अप्रैल तक धारा 144 लागू कर दिए हैं ।जिनका जनता पूरी तरह से समर्थन कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश – प्रदेश में कर्फ्यू को सफल बनाने पुलिस प्रशासन कड़ी मेहनत कर रहे हैं जो काबिल ए तारीफ हैं । छत्तीसगढ़ की न्यायधानी बिलासपुर रेंज के कड़क पुलिस महानिरीक्षक दीपांशु काबरा ,पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल इस कर्फ्यू को सफल बनाने जनता से अपील करते हुए खुद सड़क पर मोर्चा संभाल रहे हैं लेकिन कुछ जिम्मेदार पुलिस अधिकारियों- कर्मचारियों को न जाने क्यों इतना गुस्सा हैं कि वह बड़ो से लेकर बच्चों पर डंडा बरसाने दौड़ा रहे हैं ।जिससे पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं? 

बिलासपुर में कल ही एक टीआई ने पेट्रोल पंप के कर्मचारी पर डंडा बरसाने का मामला सामने आया और आईजी के निर्देश पर केवल लाइन अटैच कर मामले को दबाने की कोशिश की गई। वहीं आज मेरे निवास स्थान तिफरा स्थित नगर निगम के जोन कार्यालय के पास वाली गली यानि कि कुंदरापारा ,आर्या कालोनी रोड पर शाम 5 से 6 बजे के पांच से 12 साल  के मासूम बच्चे खेलने में लगे हुए थे उसे यहां पहुंचे पुलिस पेट्रोलिंग के कर्मचारी पीटने के लिए डंडा लेकर  दौड़ाने लगे। इसी तरह तखतपुर के अंतर्गत ग्राम पंचायत नगोई में पहुंचे पुलिस कर्मियों ने आनंद कौशिक के आठ साल के पुत्र नागेश कौशिक, रामेश्वर कौशिक के पुत्र रोहित कौशिक 13  साल सहित इस पंचायत के मासूम बच्चों पर डंडे बरसाए गए।  पुलिस जनता और बच्चों को समासईश  देने के बजाए बच्चों पर मारपीट किये जाने से बिलासपुर पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली को लेकर जनता में आक्रोश देखने को मिल रहा है।जिससे आईजी और एसपी की छवि इनके ही महकमे धूमिल करने में भी लगे हुए हैं।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772