ब्रेकिंग
तखतपुर क्षेत्र की तीन नाबालिग छात्राओं को दो युवकों ने झांसे में लिया और अरब सागर ले गए, जानिए उसके ... CG: स्वामी आत्मानंद शासकीय इंग्लिश स्कूल की छात्रा रितिका ध्रुव का इसरो में चयन बिलासपुर: नगर निगम कमिश्नर अजय कुमार त्रिपाठी को मिली भिलाई-चरौदा की कमान, SDM तुलाराम भारद्वाज को भ... बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की...

इन दोनों ने कभी सोचा भी न होगा कि विदेश से लौटने की जानकारी छुपाना इतना बड़ा क्राइम है

दुबई  से लौटने की जानकारी छुपाने पर पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. फिलहाल इन दोनों को क्वारंटाइन में भेजा है.

भिलाई : कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर छत्तीसगढ़  में पुलिस सख्त हो गई है. भिलाई  में पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ विदेश यात्रा के बारे में जानकारी छुपाने पर एफआईआर दर्ज कर ली है. दोनों ने विदेश से लौटने की जानकारी पुलिस से छुपाई.

मामला भिलाई  के खुर्सीपार थाने का है. खुर्सीपार थाने एरिया के  इमरान अहमद अनसारी और खुर्शीद आलम अनसारी 11 मार्च को दुबई से लौटे हैं. डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन के तहत विदेश से लौटने पर 14 दिन के लिए इन्हें क्वारंटाइन रहना था. लेकिन दोनों ने प्रशासन से अपनी विदेश यात्रा के बारे में जानकारी छुपाई और घर पहुंच गए.

बाद में क्षेत्र  के कुछ सतर्क लोगों को जब यह बात पता चली तो उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी. जिसके बाद पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर कोरोना ओपीडी में भेज दिया. साथ ही दोनों के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 269, 270, 271, 188 और 34 तथा महामारी अधिनियम, 1897  की धारा 3 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है और बाकी की कार्रवाई क्वारंटाइन की अवधि पूरी होने के बाद होगी.

पुलिस ने लोगों से ऐसे मामलों की रिपोर्ट करने कि हिदायत दी है और अपनी ट्रेवल हिस्ट्री छुपाने वालों के खिलाफ कड़ी करवाई की चेतवानी भी जारी की है. इन धाराओं के तहत छह महीने से लेकर दो साल तक की कैद का प्रावधान है.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772