ब्रेकिंग
बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद

देश में कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए प्रतिदिन 10 हज़ार जांच करने की क्षमता है जो बाकी देशों से ज्यादा है:केंद्र सरकार

कोरोना को हराने के लिए पूरे देश ने कमर कस कर तैयार है। आज देश भर में जनता कर्फ्यू रहा जिसमें लोग स्वेच्छा से अपने घरों में रहे। इस बीच देश की राजधानी दिल्ली सहित कई राज्यों में लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में लॉकडाउन की घोषणा की गई। वहीं कैबिनेट सचिव ने राज्यों के मुख्य सचिवों और स्वास्थ्य सचिवों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिग करके हालात का जायजा लिया और तैयारियों की समीक्षा की।

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सरकार पूरी तरह से युद्धस्तर पर काम कर रही है। केंद्र और राज्य सरकारें लगातार फैसले लेकर इसके प्रसार को रोकने में लगी हुई है। रविवार को कैबिनेट सचिव ने राज्यों के मुख्य सचिवों और स्वास्थ्य सचिवों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिग करके हालात का जायजा लिया और तैयारियों की समीक्षा की। सरकार का सारा जोर वायरस के संक्रमण की चेन को रोकना है।

वायरस के प्रसार को रोकने के लिए केंद्र और राज्यों के स्तर पर रविवार को तमाम बड़े फैसले लिए गए हैं।

वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 22 मार्च की मध्य रात्रि से 31 मार्च की मध्यरात्रि तक सभी यात्री गाडियां बंद रहेंगी। यानी इस अवधि के दौरान मालगाड़ियों को छोडकर कोई और गाड़ी नहीं चलेगी । 31 मार्च की आधी रात तक उपनगरीय ट्रेन सेवाएं भी निलंबित रहेंगी। इसके अलावा 31 मार्च तक दिल्ली मेट्रो समेत सभी मेट्रो सेवाओं को भी स्थगित करने का फैसला किया गया है। अंतर राज्यीय बस सेवाएं भी 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला किया गया है। केंद्र सरकार ने  राज्य सरकारों से उन 75 जिलों में केवल आवश्यक सेवाओं का ही परिचालन किये जाने का आदेश जारी करने को कहा है जहां कोविड-19 के पुष्ट मामले सामने आए या जहां इससे लोगों की मृत्यु हुई है। राज्य सरकारें समीक्षा के बाद इस सूची को बढ़ा भी सकती हैं।

इन तमाम फैसलों से समाज के गरीबों को कोई नुकसान न हो इसके लिए भी कदम उठाए जा रहे हैं। सरकार ने राज्यों से कहा है कि गरीबों को तकलीफ न हो इसके लिए जरुरी कदम उठाए जाएं।

इसके अलावा राज्यों को कोविड के मामलों से निपटने के लिए भी तैयार रहने को कहा गया है ।

केंद्र सरकार ने उन खबरों को भी गलत बताया है कि भारत में जांच कम हो रही है। सरकार के मुताबिक देश में कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए प्रतिदिन 10,000 जांच करने की क्षमता है जो बाकी देशों से ज्यादा है । स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि  कोविड-19 के लिए अंधाधुंध जांच नहीं होगी  केवल उन लोगों की जांच होगी  जिनमें लक्षण दिखाई देते हों ।

बात राज्यों की ओर से उठाए जा रहे कदमों की करें तो पूरे राजस्थान में लॉकडाउन हो गया है। पंजाब में भी पूरे देश में ल़ॉकडाउन कर दिया गया है । पंजाब मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि बंद के दौरान  सभी जरूरी सरकारी सेवाएं जारी रहेंगी और दूध, खाद्य सामान, दवाइयां आदि जैसी जरूरी चीजें बेचने वाली दुकानें खुलेगी रहेंगी। सभी उपायुक्तों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को पाबंदियां तुरंत लागू करने का निर्देश दिया गया है। चंडीगढ़ में  केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन ने संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सार्वजनिक परिवहन पर रोक लगाने समेत 31 मार्च तक बंद करने के रविवार को आदेश दिये। कार्यालय, स्कूल, कॉलेज, कारखाने और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान समेत सभी गैर-आवश्यक प्रतिष्ठान 31 मार्च तक बंद रहेंगे। सभी सार्वजनिक परिवहन भी बंद रहेंगे।’ सभी को घरों में रहने की सलाह दी गई है।” हालांकि सब्जियों की दुकानें, राशन दुकानें, दवा की दुकानें आदि बंद नहीं रहेंगी।” उत्तराखंड में कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के लिए 31 मार्च तक संपूर्ण प्रदेश में लॉकडाउन घोषित किया ।

कोलकाता और पश्चिम बंगाल के कई इलाके में सोमवार पांच बजे से 27 मार्च तक बंदी रहेगी।

राज्य सरकार द्वारा रविवार को जारी अधिसूचना के मुताबिक इस अवधि के दौरान केवल आवश्यक सेवाएं ही चालू रहेंगी। महाराष्ट्र में भी पूरे राज्य में धारा 144 लागू कर दी गयी है । पूरी दिल्ली में धारा 144  लागू कर दी गयी है ।

यूपी में  प्रदेश के 15 जिलों को पूरी तरह लॉकडाउन कर दिया गया है । राज्य सरकार ने कहा है कि हालात नियंत्रण में है ।

तमिलनाडु सरकार ने  ‘जनता कर्फ्यू’ की समयसीमा को सोमवार सुबह पांच बजे तक बढ़ा दिया है। गोवा और त्रिपुरा में धारा 144 लागू कर दी गयी है ।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक  ने कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए शिक्षकों, शोधार्थियों, गैर शिक्षण कर्मियों को 31 मार्च तक घर से काम करने का सुझाव देते हुए  कहा कि इस अवधि में उन्हें ड्यूटी पर माना जायेगा । कुल मिलाकर सरकारें हर जरुरी कदम उठा रही है और आने वाले दिनों में हालात के आधार पर फैसला होगा ।

source-DD NEWS

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772