ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

PWD टेंट बिल घोटाला:बिलासपुर टेंट एसोसिएशन को सामने कर अपने काली करतूतों को दबाने की तैयारी कर रहा है अभिषेक अग्रवाल:सूत्र

बिलासपुर।आजकल मुंगेली जिला VVIP GUEST TOUR मद में हुए घोटाले को लेकर सुर्खियों में है।इस जिले में पिछले कुछ महीनों में VVIP GUEST TOUR मद से करोड़ों के काम हुए हैं और इस मद की राशि का नीचे से लेकर ऊपर तक के पीडब्ल्यूडी अधिकारीयों ने टेंट ठेकेदार के साथ मिलकर जमकर फर्जीवाड़ा किया है। उक्त जानकारी हमारे तक पीडब्ल्यूडी के सूत्रों के माध्यम से पहुंची है।

सूत्रों की माने तो अभिषेक अग्रवाल वर्ष 2019 में 15 अगस्त और मुख्यमंत्री दौरा कार्यक्रम में हुए कार्यक्रम का मुंगेली कार्यपालन अभियंता हरिचरण अहिरवार के साथ मिलकर 12 लाख के बिल को लगभग एक करोड़ का बनवाया है जो कि एक गंभीर मामला है।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुंगेली टेंट के कार्य में जो भ्रष्टाचार हुआ है इसकी भनक मंत्रालय में मंत्री ताम्रध्वज साहू के चहेतों को भी है।लेकिन, शायद यह कारनामा मंत्री के संज्ञान में नहीं आया है।सूत्रों से यह भी पता चला है कि मुंगेली में हुए टेंट के कार्यो में हुए घोटाले की राशि कार्यपालन अभियंता, मंत्री के ख़ास लोगों तक पहुँचा चुके हैं ।इससे यह समझा जा सकता है कि इस मामले के उजागर होने के बावजूद ,अब तक इस पर किसी भी तरह की कार्रवाई न होना कई संदेहो को जन्म देती है और सूत्रों की खबरों को 100 प्रतिशत सही पुष्ट करती है।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार ये वही अभिषेकअग्रवाल है जो भाजपा शासनकाल में एक मंत्री के कार्यक्रम में विवादों से घिरा हुआ था।वहाँ भी इसने खूब भ्रष्टाचार किया।अभिषेक अग्रवाल मूलतः मनेन्द्रगढ़ का रहने वाला है, वहां पर भी टेंट के कार्यो मे इसने खूब भ्रष्टाचार किया है ।सूत्र बताते हैं कि वहां से भागने के बाद इसने अपना डेरा बिलासपुर में जमा लिया।अब बिलासपुर संभाग में भी अभिषेक की काली करतूत की परतें धीरे -धीरे खुलने लगी है।

न्यूज़ हब इनसाइट को नाम न छापने की शर्त में एक टेंट व्यवसायी ने बताया कि अभिषेकअग्रवाल ने कई टेंट व्यवसायियों को अपना पार्टनर बनाकर ठगा है।टेंट व्यवसायी ने बताया किअभिषेकअग्रवाल ने सुकमा और बेमेतरा में भी टेंट कार्यो में खूब भ्रष्टाचार किया है।

आपको यह भी बता दें कि टेंट कार्यों में हुए भ्रष्टाचार की जाँच मुंगेली थाना के प्रभारी आशीष अरोरा कर रहे हैं ।उन्होंने न्यूज हब इनसाइट से चर्चा के दौरान कहा कि यह गंभीर मामला है और हमेशा की तरह इस मामले की भी निष्पक्ष जांच की जाएगी।अरोरा ने कहा कि जाँच में दोषी पाए जाने वाले पर कड़ी क़ानूनी कार्रवाई की जाएगी ।मिली जानकारी के अनुसार मुंगेली थाना से भेजी गई नोटिस अभिषेक अग्रवाल को मिल गई है। अभिषेक 20 मार्च तक नोटिस का जवाब प्रस्तुत करने के लिए समय माँगा है।

News Hub Insight के अगले एपिसोड में हम पाठकों के सामने एक ऐसा ऑडियो (सूत्रों से प्राप्त)रिलीज़ करेंगे जिसमे अभिषेक अग्रवाल ने शासन और अपने बिलासपुर टेंट एसोसिएशन के पदाधिकारियों के खिलाफ गंभीर बयान दिया है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772