ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

कथा सुनाते आचार्य…..

कुरदा गांव में श्रीमद भागवत सुनने उमड़ रहे श्रद्धालु

चांपा। यह संसार ही सरोवर है और जीव गजेंद्र है जिसे काल रूपी ग्राह पकड़ता है। लेकिन दुनिया के सब रिश्ते स्वार्थ के होते है। वे डूबने के समय बचाने नही आते। बचाते तो केवल ईश्वर है।

ये बातें गजेंद्र मोक्ष की कथा में व्यासपीठ से आचार्य अशोक तिवारी ने पटेल समाज कुरदा में आयोजित श्रीमद भागवत कथा में कही। उन्होंने कहा कि समुद्र मंथन का तात्पर्य अपने स्वयं के मन मंथन से है। यदि हमारे मन मे दैत्य रूपी विकार ने कब्जा कर लिया तो उसे दूर करने के लिए समुद्री रूपी मन को भगवान की याद को धारण कर मथना होगा। जब शरीर एवं हृदय से विकार रूपी विशाक्त बाहर आयेंगे तो अमृत रूपी चित शुद्धि की प्राप्ति होगी। कथा के चैथे दिवस रामजन्म एवं कृष्ण जन्म की कथा का सविस्तार उन्होंने वर्णन किया। साथ ही मनोरम झांकिया भी सुंदर निकाली गई।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772