ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

उइके के नेतृत्व में कलेक्टोरेट का घेराव आज, राज्यपाल के नाम क्लेक्टर को सौंपा जाएगा ज्ञापन…..

बिलासपुर ।  जिला कांग्रेस कमेटी  बिलासपुर  प्रभारी  व प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामदयाल उइके के नेतृत्व में कलेक्टर कार्यालय का घेराव सोमवार को किया जाएगा।

कांग्रेस भवन में पत्रकारों से चर्चा करते हुए रामदयाल उइके ने कहा कि मुख्यमंत्री  डॉक्टर रमन सिंह की सरकार किसान विरोधी और विकास विरोधी है । पिछले 15 सालों में प्रदेश की जनता, भारतीय जनता पार्टी सरकार की करनी और कथनी से बहुत परेशान है। इस बार होने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की करारी हार होने वाली है ।

उन्होंने कहा कि रमन सरकार आदिवासी विरोधी है। इसका सबसे जीता जागता नमूना आदिवासियों की भू राजस्व संहिता में संशोधन का प्रावधान सदन में लाया जाना है। हालांकि कांग्रेस के विरोध के बाद राज्यपाल  ने बिल को वापस कर दिया, लेकिन अभी भी भाजपा सरकार ने बिल वापस भेज दिया है। उइके  ने बताया कि आज जिला कांग्रेस कमेटी के सभी कार्यकर्ता एकजुट होकर प्रदेश के राज्यपाल के नाम कलेक्टर को ज्ञापन देंगे । इसमें 8 सूत्रीय मांगों का जिक्र किया गया है l तानाखार विधायक ने बताया कि ज्ञापन में जिन आठ प्रमुख बिंदुओं का जिक्र किया गया है, उनमें किसानों की फसल की सूखा क्षतिपूर्ति मुआवजा राशि शीघ्र देने, फसल बीमा शीघ्र देने की चर्चा और  बेमौसम बारिश ओलावृष्टि से  रबी फसल को हुए नुकसान का आकलन कराने को कहा गया है। साथ ही  क्षतिपूर्ति राशि देने को कहा गया है।

राज्यपाल से निवेदन किया गया है कि किसानों का कर्ज पूरी तरह से माफ किया जाए । मनरेगा के लंबित भुगतान को जल्द से जल्द दिया जाए। रोजगार पैदा किया जाए। घोषित बोनस राशि अभी तक नहीं मिली है। किसान आत्महत्या कर रहे हैं। किसानों को बोनस तत्काल दिया जाए।

उन्होने बताया कि इसके अलावा अन्य कई मुद्दे हैं ,जिससे प्रदेश की जनता बहुत परेशान है। रामदयाल उइके ने कहा कि कांग्रेस पूरी तरह से संगठित है ।आज हम लोग मिलकर कलेक्टर का घेराव करने जा रहे हैं। गुटबाजी की यहां कोई बात ही नहीं है। तानाखार विधायक ने कहा हम संगठित हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होेने कहा कि जिला अध्यक्ष पद की घोषणा जब होनी होगी तो होगी । इससे हमारे आंदोलन और दृढ़ इच्छा शक्ति पर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है। उइके  ने कहा जब से पीएल  पुनिया  प्रदेश कांग्रेस प्रभारी बने हैं, रमन सिंह की नींद उड़ गई है। वे ताबड़तोड़ दौरा कर रहे हैं ।अब उन्हें विकास की बातें याद आने लगी है। लेकिन बताना चाहूंगा कि उनके हाथ से समय निकल चुका है। जनता ने निश्चित कर लिया है कि विधानसभा 2018 के चुनाव में कांग्रेस की सरकार बनाना है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772