ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

नक्सली दंपति ने किया पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण……

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में इनामी नक्सली दंपति ने पुलिस के समक्ष आत्समर्पण कर दिया है। बीजापुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने आज भाषा को दूरभाष पर बताया कि नक्सली बोड़की कोवासी उर्फ सुखराम उर्फ नागेश :33 वर्ष: और उसकी पत्नी गंगी मड़कामी उर्फ मनीला :30 वर्ष: ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बोड़की कोवासी कमालूर एरिया कमेटी में स्वयंभू एलजीएस डिप्टी कमाण्डर था। इसके सिर पर तीन लाख रूपये का इनाम घोषित है। उन्होंने बताया कोवासी वर्ष 2002 में पार्टी सदस्य के रूप में संगठन में भर्ती हुआ था।

अधिकारियों ने बताया कि गंगी मड़कामी माटवाड़ा एलओएस में सदस्य थी। इसके सिर पर एक लाख रूपये का इनाम घोषित है। गंगी वर्ष 2004 में भैरमगढ़ एरिया कमेटी में भर्ती हुई थी।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सली दंपति ने नक्सली जीवन शैली से त्रस्त होकर और खोखली विचारधाराओं से क्षुब्ध होकर मुख्यधारा में लौटने का फैसला किया है।  उन्होंने बताया कि समर्पण करने वाले माओवादियों को उत्साहवर्धन के रूप में शासन द्वारा प्रोत्साहन राशि दस-दस हजार रूपये नगद प्रदान किया गया है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772