ब्रेकिंग
बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव... बिलासपुर: जाँच के दौरान कार में मिली 22 किलो 800 ग्राम कच्ची चाँदी, व्यापारी के द्वारा पेश किया गया ... बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ के पदाधिकारियों ने मंत्री जयसिंह अग्रवाल को दिया नववर्ष मिलन सम... बिलासपुर: पत्रकार शाहनवाज की सड़क हादसे में मौत, सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ ने शोक व्यक्त कर दी श्रद्... बिलासपुर: रतनपुर थाना क्षेत्र में कार में 3 जिंदा जले, पेड़ से टकराने के बाद कार में लगी आग, अंदर ही ...

शिव डहरिया ने जोगी को रमन सिंह का मित्र बताया ……

बिलासपुर/छत्तीसगढ़ भवन में मीडिया से चर्चा के दौरान  अजीत जोगी के जाति संबंधी मामले में न्यायालय का निर्णय और छत्तीसगढ़ कांग्रेस का अजीत जोगी से सामंजस्य के विषय में पूछे गए प्रश्न पर डहारिया ने कहा- जोगी का बरी होना हमारे लिए कोई मुद्दा नहीं आगे कहा कि रमन सिंह ने जो कमेटी बनाई थी उस कमेटी में ही खामियां है, एक ही व्यक्ति को तीन 3 पदों में एक साथ रखना संविधानिक नहीं है फिर भी रमन सिंह ने ऐसा किया क्योंकि वह जोगी के मित्र, न्यायालय ने जोगी के जाति संबंधित कोई निर्णय नहीं दिया है न्यायालय ने कमेटी के गठन को ही त्रुटिपूर्ण बताया है.रमन सिंह ने जानबूझकर ऐसी कमेटी बनाई थी ताकि उनके मित्र को लाभ मिल सके.

पीसीसी अध्यक्ष ने फिर प्रशंसा क्यों की थी? इसके उत्तर में उन्होंने कहा कि पीसीसी अध्यक्ष ने प्रशंसा जरूर की थी लेकिन उन्होंने कमेटी की खामियों को भी उजागर किया था, कमेटी का निर्णय सही है परंतु कमेटी में जो कमियां हैं उन कमियों के विषय में भी उन्होंने कहा था. जोगी के जाति प्रमाण पत्र पर भी उन्होंने प्रश्न उठाते हुए कहा कि जब शहडोल से चुनाव लड़ते हैं तो इंदौर से जाति प्रमाण पत्र जारी होता है और जब रायगढ़ से लोकसभा चुनाव लड़ते हैं तो पेंड्रा से जाति प्रमाण पत्र जारी होता है, एक ही व्यक्ति का दो अलग-अलग जगहों से जाति प्रमाण पत्र जारी करना यह जांच का विषय है, जो नई कमेटी बन रही है उसमें यह सारी चीजें स्पष्ट हो जाएगी.

कांग्रेस के बड़े नेता देवव्रत  सिंह जोगी पार्टी ज्वॉइन कर ली हैं और वह भी 7000 कार्यकर्ताओं के साथ इस विषय में आपका क्या कहना है? उन्होंने कहा कि जिसको जहां जाना है वह जा सकता है, जो पार्टी को नहीं मानते, पार्टी का संविधान नहीं मानते हैं, पार्टी के विरुद्ध कार्य करते हैं बयान देते हैं, उन्होंने इसके लिए पार्टी से माफ़ी भी मांगी थी और कहा था कि मुझे वापस ले लो, परंतु हमारे पार्टी महामंत्री ने कहा जो जिधर जाना चाहता है वह जा सकता है.

एक प्रश्न के उत्तर में कि कांग्रेस पार्टी को लोग छोड़ कर जा रहे हैं कांग्रेस पार्टी किसी को निकालती नहीं है, परंतु लोग ही कांग्रेस पार्टी को छोड़कर अन्य पार्टियों में शामिल हो रहे हैं, कहा कि कोई पार्टी छोड़कर नहीं जा रहा है ऐसा नहीं है, बल्कि जोगी पार्टी के प्रदेश सचिव महासमुंद से गिरधर आवड़े, प्रदेश अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष डी पी धृतलहरे तीन बार मंत्री और पांच बार विधायक रहे हैं, कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए हैं.

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772