जानिए बजट पर किसने क्या कहा, पढ़ें प्रतिक्रिया ……..

बिलासपुर । केंद्र सरकार द्वारा साल 2018-19 का बजट पेश संसद भवन में पेश कर दिया गया। जेटली ने इनकम टैक्स के स्लैब में भी कोई बदलाव नहीं किया। बजट पेश होने के बाद विपक्ष से लेकर तमाम राजनीतिक पार्टियों के नेताओं की प्रतिक्रिया आना शुरू हो गई है।  एक ओर जहां बीजेपी के नेताओं ने इसे विकास का बजट बताया और कहा कि इस बजट से देश का विकास होगा वहीं दूसरी ओर कांग्रेस नेताओं ने इसे निराशाजनक बजट बताने की पूरी कोशिश की। 

धरम लाल कौशिक

बजट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरम लाल कौशिक ने कहा, “यह बजट आर्थिक विकास को गति देगा, यह सभी क्षेत्रों पर केंद्रित है। यह देश की नींव मजबूत करने वाला बजट है। मुझे यकीन है कि इससे किसानों को बहुत मदद मिलेगी। 

मनीष अग्रवाल
एल्डरमेन मनीष अग्रवाल ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “ये बजट बहुत शानदार है, जनता के अनरूप है, बजट से आने वाले दिनों में कई क्षेत्र में विकास होगा। 

अमर जीत सिंग दुआ

  एल्डरमेन अमरजीत सिंग  ने भी बजट की तारीफ की। उन्होंने कहा, “देश के गरीबों, गांव, किसानों, बुजुर्गों को ध्यान में रख कर बेहतरीन योजानाएं हैं।

महापौर
  महापौर किशोर राय  ने  बजट को बेहद शानदार बताया। किशोर  ने कहा, “इससे बेहतर बजट कुछ और हो ही नहीं सकता। जेटली जी ने बजट में निचले पायदान पर खड़े व्यक्ति का भी ख्याल रखा है। स्वास्थ्य, शिक्षा से लेकर हर पहलू को बजट में समाहित किया गया है, जिसका लाभ हर व्यक्ति को मिलना तय है। 

बिलासपुर  कांग्रेस
केंद्र के बजट को बिलासपुर कांग्रेस ने सिरे से नकार दिया है. कांग्रेस ने साफ कहा कि इस बजट में ऐसा कुछ भी नहीं है जिसकी तारीफ की जा सके।

अटल श्रीवास्तव

प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने कहा कि बजट पर जनता को बड़ी आस थी पर पिछले चार बजट की तरह ही है ।लोक लुभावना है । मध्यम वर्ग अपने आप को छला महसूस कर रहा है ।

  नरेंद्र बोलर

वहीं शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर ने कहा कि बजट में 70 लाख रोजगार की बात की गई है । जबकि नोटबन्दी और जी एस टी के कारण लाखो नौकरी छीनी जा चुकी है । ऐसे में युवा अपनी नौकरी बचाने को जद्दोजहद कर रहा है । नई नौकरी की बात करना हास्यास्पद सा लगता है ।

राजेंद्र शुक्ला

 ग्रामीण अध्यक्ष राजेंद्र शुक्ला ने कहा कि बजट में प्रावधान रखा गया है कि किसानों की फसल को लागत का  डेढ़ गुना मूल्य पर  खरीदी करेगी ।पर किसान द्वारा फसल में किये गए  खर्च का आकलन कैसा होगा ,कौन करेगा ?यह गम्भीर प्रश्न है क्योंकि किसानों का फसल बीमा तो की जाती है पर क्षतिपूर्ति के नाम पर  पैसे में भुगतान किया जाता है ।

अभय नारायण राय

सम्भागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय ने कहा कि बजट चुनावी है ,खाली पुलाव का पिटारा से ज्यादा कुछ नहीं  है। गरीब परिवारों के लिये बिजली,स्वास्थ्य बीमा,गैस कनेक्शन की बात की गई है पर इनका लक्ष्य तक पहुंचना  सन्देह के घेरे में है क्योंकि इसके पूर्व के बजटो का लक्ष्य प्राप्त नहीं  कर सका। केवल इमेजिंग बजट है। 

 पिनाल उपवेजा

जिला कांग्रेस महामंत्री पिनाल उपवेजा ने आम बजट को निराशाजनक बताया। पिनाल ने कहा , “गरीब-किसान-मजदूर को निराशा; बेरोजगार युवाओं को हताशा; कारोबारियों, महिलाओं, नौकरीपेशा और आम लोगों के मुँह पर तमाचा, ये जनता की परेशानियों की अनदेखी करने वाली सरकार का सबसे बेकार बजट है।  आख़री बजट में भी भाजपा ने दिखा दिया कि वो केवल अमीरों की हिमायती है, अब जनता जवाब देगी। 

जावेद मेमन
 प्रदेश युवा कांग्रेस नेता जावेद मेमन ने बजट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए  कहा, “बजट से बहुत ज्यादा उम्मीद थी। ना कर्मचारियों को राहत मिली ना युवाओं के लिए इस बजट में कुछ है, अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए इसमें कोई बड़ा कदम नहीं उठाए। 

बिलासपुर के लोग

इस आम बजट में महिलाओं को गैस कनेक्शन और बिजली कनेक्शन देने की बात पर एक महिला ग्रहणी का कहना था कि इस बजट में बहुत कुछ सही है जो आम लोगों को काफी फायदा पहुंचाएगा लेकिन एक आम आदमी को बजट में छूट के लिए सरकार से काफी उम्मीदें होती हैं जिसमें सरकार ने लोगों को नाउम्मीद किया है।

एक युवा का कहना था कि इस बजट में उद्योगपतियों का भरपूर ख्याल रखा गया है। युवा मोदी जी की व्यापार नीति से संतुष्ट तो नजर आए लेकिन उनका कहना था कि एक तरफ मोदी जी रोजगार देने की बात करते हैं तो वहीं फैक्ट्री और कारखाने बंद होने से लाखों करोड़ों लोग बेरोजगार हो गए निचले तबके के लोगों के लिए इस बजट में कोई योजना नहीं जिससे कि उनका भी विकास हो सके।

सरकारी कर्मचारियों की प्रतिक्रिया

आयकर सीमा नहीं बढ़ाने से कर्मचारियों में निराशा

केंद्र सरकार द्वारा आयकर की सीमा नहीं बढ़ाए जाने से सरकारी कर्मचारियों में निराशा है। कर्मचारियों का कहना है कि केंद्र सरकार को बजट में आयकर की सीमा बढ़ानी चाहिए थी।

ब्रेकिंग
बिलासपुर: सदर बाजार, गोल बाजार और शनिचरी मार्केट में अतिक्रमण के खिलाफ की गई कार्रवाई CG: 16 साल बाद भी पिथौरा दंगा पीड़ितों को नहीं मिला मुआवजा : रिजवी रायपुर: छत्तीसगढ़ प्रदेश आर्चरी एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष कैलाश मुरारका ने खेल एवं युवा कल्याण विभाग... बिलासपुर: पत्रकारों को मौत के घाट उतारने की साजिश रची थी इस महिला ने, जानिए किसने कहा, देखिए VIDEO बिलासपुर: चकरभाठा थाना के सामने खड़ी कोयला से भरे ट्रक में लगी आग, पुलिस ने पाया काबू, देखिए VIDEO बिलासपुर: मुख्यमंत्री ने किया संभाग स्तरीय सी-मार्ट का लोकार्पण बिलासपुर: कोतवाली सीएसपी पूजा कुमार को सौंपा गया लाइन अटैच आरक्षकों की जांच का जिम्मा बिलासपुर: छत्तीसगढ़ से दो हजार किसान जाएंगे दिल्ली बिलासपुर: कमीशन वसूल करवाने वाला शख्स विक्रम कौन...? बिलासपुर: प्रदेश का सबसे बड़ा पत्रकार संघ "सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़" के प्रतिनिधि मंडल से दूसरी बार...
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772