ब्रेकिंग
बिलासपुर: टीम मानवता ने 51 कन्याओं को कराया भोज बिलासपुर: सीपत शाखा में एटीएम का प्रमोद नायक ने किया उद्घाटन बिलासपुर: टेक्नीशियन अक्षय गनकुले और अरुण गुनके ने जीता स्वर्ण पदक बिलासपुर: रेमेडियल कक्षाओं हेतु इस स्कूल के शिक्षकों को नहीं प्राप्त हुई राशि, जानिए इस पर क्या रिएक... रायपुर: लिपिक अब संयुक्त मोर्चा लिपिक महासंघ के बैनर तले करेंगे आंदोलन बिलासपुर: प्रदेश उपाध्यक्ष मोनू अवस्थी के नेतृत्व में युवा कांग्रेस ने नेशनल हाइवे का किया चक्का जाम... बिलासपुर: एक सवाल पर बोलीं राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा, मैं BJP से नहीं हूँ... बिलासपुर: चकरभाठा कैंप निवासी सुनील बगतानी, भूपेंद्र कोटवानी, दीपक हरियानी, जेठू खत्री, गोलू वाधवानी... बिलासपुर: स्पेशल कोचिंग के लिए बिलासपुर के इस कार्यालय को मिला 1 करोड़ 7 लाख 9 हजार 9 सौ 40 रुपए बिलासपुर: उत्तर प्रदेश निवासी संग्राम कुमार महापात्रा को तारबाहर पुलिस ने ठगी करने के आरोप में गाजिय...

बेटों ने किया पिता का नेत्रदान, ताकि किसी दूसरे के जीवन में हो सके रोशनी


बिलासपुर । शहर में सिंधी समाज के एक परिवार ने पिता की मृत्यु के बाद उनकी आंखें दान करके अन्य लोगों को नेत्रदान की प्रेरणा देते हुए मिसाल कायम की है। तोरवा  धान मंडी निवासी नगर के प्रतिष्ठित नागरिक मोतीलाल वाधवानी का निधन हो गया। स्वर्गीय मोतीलाल वाधवानी के बड़े पुत्र मनोहर वाधवानी हैंड्स ग्रुप के मीडिया प्रभारी हैं ,उन्होंने पूर्व में अपनी दादी जी का भी नेत्रदान करवा चुके हैं । मोतीलाल वाधवानी के बेटों  ने अपने पिताजी की मृत्य के बाद उनकी आंखों को जिंदा रखने और किसी नेत्रहीन को रोशनी देने के उद्देश्य से अपने पिता की आंखों का दान कर दिया।
अनुकरणीय पहल
मानव समाज के लिए यह उनका सराहनीय व अनुकरणीय पहल है। मोतीलाल वाधवानी  के नेत्र का संग्रहण हैंड्स ग्रुप की टीम व सिम्स की टीम से डॉ इंतकाम एवं उनके सहयोगियों   ने किया। हैड्स ग्रुप  की टीम  ने बताया कि एक व्यक्ति के नेत्र दान से दो नेत्रहीन व्यक्ति को ज्योति मिलती है। नेत्रदान के लिए यह जरुरी नहीं है, कि दानकर्ता स्वयं घोषणा पत्र भरा हो। मृतक के वारिस भी अपने मृत परिजन का नेत्रदान करना चाहे तो कर सकते हैं। नेत्र दान सिर्फ मरणोपरांत ही किया जाता है।

हैंड्स ग्रुप वाधवानी परिवार को साधुवाद देता है व नमन करता है कि उन्होंने दो लोगों के अंधेरे जीवन मे रोशनी लाने का प्रयास किया ।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772