ब्रेकिंग
बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्...

कोटवारों के लिए कलेक्टर दर पर पारिश्रमिक आवश्यक – सिंहदेव

 

अम्बिकापुर /पंचायत एवं ग्रामीण विकास, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रीटी.एस. सिंहदेव ने आज पी जी कॉलेज मैदान अम्बिकापुर में कोटवार संघ के सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि कोटवारों के लिए गांवों में जमीन आरक्षित रहती है, जिससे प्राप्त होने वाली आमदनी उन्हें पारिश्रमिक के रूप में प्राप्त होती है। उन्होंने बताया कि आजादी के बाद से ही कोटवारों के लिए यह प्रथा चली आ रही है। वर्तमान में भी कोटवार पंचायत द्वारा दी गई जमीन पर खेती करते आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरे विचार से कोटवारों को कम से कम कलेक्टर दर पर पारिश्रमिक मिलना आवश्यक है। यदि किसी कोटवार के पास जमीन है तो उससे होने वाली शुद्ध आय की गणना करते हुए कलेक्टर दर पर पारिश्रमिक दिया जाना जरूरी है। यदि जमीन से होने वाली आय कलेक्टर दर से कम है तो अंतर की राशि उन्हें दी जानी चाहिए। उन्होंने बताया कि पारम्परिक रूप से कोटवार के परिवार के सदस्यों को ही कोटवारी का दायित्व प्राप्त होता रहा है। कोटवार की मृत्यु होने पर उनकी पत्नी को भी कोटवार बनाया जाता रहा है। कोटवार के बच्चे नहीं होने पर उसके रिश्तेदार को भी कोटवार बनाया गया है। उन्होंने कोटवारों को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार द्वारा कोटवारों को कलेक्टर दर पर पारिश्रमिक देने पर गंभीरतापूर्वक विचार किया जा रहा है। इस अवसर पर जिले के कोटवार बड़ी संख्या में उपस्थित थे।   

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772