ब्रेकिंग
बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख

सिम्स में फर्जी तरीके से नियुक्ति और प्रमोशन पाने वाले डाक्टरों पर सिंहदेव सख्त, होगी जांच

बिलासपुर- छत्तीसगढ़ सरकार के  स्वास्थ्य एवं पंचायत, अभियांत्रिकी मंत्री टीएस सिंह देव आज बिलासपुर प्रेस क्लब पहुंचकर पत्रकारों से मुख़ातिब हुए। पत्रकारों से चर्चा करते हुए टीएस सिंहदेव ने कहा कि स्वास्थ्य व्यवस्था में बहुत सुधार की आवश्यकता है। इसे हर हाल में ठीक किया जाएगा। सिम्स में फर्जी दस्तावेजों के साथ नौकरी करने वाले डॉक्टरों की जांच करवाकर कार्रवाई की जायेगी।                    

उन्होने कहा कि पत्रकारों के सवाल समस्याओं की तरफ इशारे करते हैं। इसलिए पत्रकारों के सवालों और आलोचनाओं को सकारात्मक रूप से लेने की आवश्यकता है।वहीं उन्होंने कहा कि मेडिकल विभाग की व्यापक स्तर पर सर्जरी होगी। व्यवस्था को चुस्त और दुरूस्त बनाया जाएगा। हमारा यह उद्देश्य है कि लोगों को निःशुल्क और बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ मुहैया हों हमारी सरकार की यही कोशिश है।                          

 स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ की 75 प्रतिशत आबादी को केवल प्राथमिक इलाज की जरूरत है। प्राथमिक उपचार के लिए बड़े स्तर से लेकर नीचे तक दवाइयां उपलब्ध हो यह हमारा प्रयास रहेगा। स्मार्ट कार्ड उपयोग पर कमी के सवाल पर उन्होंने कहा कि स्मार्ट कार्ड बंद होने का सवाल ही नहीं है। क्योंकि सितम्बर तक का रूपया जमा कर दिया गया है। आयुष्मान भारत योजना 6 महीने बाद बंद हो जाएगा। हमारा मानना है कि जब हमारे पास स्वास्थ्य का बेहतर ढांचा है। बस हमें इसे ठीक करने की जरूरत है। जब इलाज की व्यवस्था ठीक होगी तो फिर आयुष्मान भारत की जरूरत क्या है।
               

कई निजी अस्पतालों में शुल्क भुगतान नहीं होने पर शव को बंधक बना लिया जाता है। इस सवाल के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि यह दुखद है। इसकी शिकायत बार-बार मिलती है। इस पर हम बेहतर कुछ करेंगे। हमारा प्रयास होगा कि तत्काल शुल्क नहीं होने पर बाद में भी लिया जा सकता है। इसके पहले अंतिम संस्कार के लिए शव को बंधक नहीं बनाया जा सकता।
               

प्रदूषित पानी से कई प्रकार के रोग हो रहे हैं पीलिया जैसी बीमारी के रोकथाम के जवाब में कैबिनेट मंत्री ने कहा कि ड्रेन के पास से पाइप गुजरने से सीपेज के कारण गंदा पानी घर तक पहुंच रहा है। इसे दुरूस्त करने की आवश्यकता है। ग्रामीण क्षेत्र की पेयजल व्यवस्था ठीक करेंगे। किसी भी कर्मचारी का प्रमोशन नहीं रोका जाएगा। लेकिन शासकीय कार्रवाई चलती रहेगी। मनरेगा भुगतान नहीं मिलने के जवाब में टीएस ने कहा कि इसका  पता लगाएंगे। यहां भी ना केवल भुगतान कराया जाएगा बल्कि अव्यवस्था को दूर कर इसमें सुधार किया जायेगा

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772