ब्रेकिंग
बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद

अनिल व अजय ने मंत्री चौबे के समक्ष किसानों की रखी पीड़ा

बिलासपुर/ चांपी दुलहरा सिंचाई परियोजना के माध्यम से बेलतरा के दर्जन भर गांवों की सिंचाई समस्या को लेकर जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे से किसान नेता अजय सिंह एवं जिला कांग्रेस महामंत्री व प्रवक्ता अनिल सिंह चौहान ने रायपुर मंत्रालय में भेंट कर समुचित पहल के लिए लिखित मांग पत्र सौंपा। मंत्री चौबे ने किसानों से जुड़े मामले को संवेदनशीलता से लेते हुए यथाशीघ्र निराकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को समुचित दिशा निर्देश देते हुए योजना को प्रारंभ करने के निर्देश दिए।  


पेंड्रा डिवीजन के चांपी जलाशय से बेलतरा विधानसभा के दुलहरा तालाब तक पहुंची चांपी दुलहरा परियोजना से लगभग दर्जन भर गांवों के सैकड़ों किसानों को सिंचाई का लाभ मिलेगा। किंतु वर्षों पूर्व बनी करोड़ों की लागत वाली यह योजना अभी तक सफेद हाथी साबित हुयी है। लगभग दर्जन भर गांवों के किसानों से इस परियोजना के कारण सिंचाई का लगान भी वर्षों से वसूला गया। किसानों के इस शोषण को देखते हुए किसान नेता अजय सिंह के नेतृत्व में किसानों ने कई आंदोलन किए, जिला कलेक्टर का घेराव कर ज्ञापन भी सौंपा। इस योजना को लेकर हुए किसान आंदोलनों के बाद तात्कालीन कलेक्टर पी. अंबलगन ने सिंचाई विभाग के संबंधित अधिकारियों को मामले को लेकर कड़ी फटकार लगाते हुए योजना को फलीभूत करने के निर्देश दिए थे। कुछ पहल हुयी और पहली बार अपर्याप्त ही सही पानी दुलहरा तक पहुंचा लेकिन 16 किमी लंबी जीर्ण शीर्ण नहर ने किसानों के सिंचाई के सपने को पूरा नहीं होने दिया।


पेंड्रा व कोटा जल संसाधन विभाग के सवंदेनहीनता के कारण दर्जन भर गांवों के सैकड़ों किसान लगभग एक दशक पुरानी इस योजना का लाभ कभी नहीं ले सके हैं। किसान नेता पूर्व महामंत्री अजय सिंह एवं जिला महामंत्री अनिल सिंह चौहान ने रायपुर मंत्रालय में जाकर सोमवार 14 जनवरी को मंत्रालय रायपुर में जल संसाधन, विधि एवं विधायी, संसदीय कार्य मंत्री रविन्द्र चौबे के समक्ष बेलतरा क्षेत्र के किसानों की पीड़ा को लिखित में बताया जिस पर मंत्री रविन्द्र चौबे ने संबंधित अधिकारियों को समुचित निर्देश जारी करते हुए शीघ्र ही योजना पर ठोस कार्यवाही का आश्वासन दिया।

किसान नेता अजय सिंह ने बताया कि कांग्रेस नेता स्व. राजेन्द्र प्रसाद शुक्ला  स्वप्न योजना चांपी दुलहरा सिंचाई परियोजना को लेकर मंत्री रविन्द्र चौबे ने पूर्णतः संवेदनशीलता से कार्यवाही की है उनको साधुवाद है जिसके कारण किसानों की पीड़ा जल्द ही दूर हो जायेगी। रानीगांव, मदनपुर, पेंडरवा गोंदईया, सिंघरी, भरवीडीह सहित दर्जन भर गांवों के किसानों को नहर की मरम्मत व व्यवस्थापन के बाद सिंचाई का पानी मिलने लगेगा।

जिला कांग्रेस के प्रवक्ता व महामंत्री अनिल िंसह चौहान ने बताया कि जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे  ने तत्परता से मामले के तकनीकी पहलुओं को समझकर यथाशीघ्र निराकरण की पहल कर दी है जल्द ही दुलहरा तक पानी पहुंचेगा।   अनिल िंसंह चौहान ने बताया कि भाजपा के शासनकाल में किसानों की उपेक्षा की जीती जागती मिशाल चांपी दुलहरा परियोजना है। 

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772