ब्रेकिंग
बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख बिलासपुर: बिल्हा क्षेत्र से गायब हुई नाबालिग लड़की तेलंगाना में मिली

प्रबंधक से मारपीट करने वाले 7 आरोपी गिरफ्तार, मास्टरमाइंड कोयला माफिया फरार

 

बिलासपुर- जिले के रतनपुर और हिर्री थाना क्षेत्र में 4 जनवरी को कोयला कोयला माफिया के इशारे पर कुछ असामाजिक तत्वों ने तीन अलग -अलग स्थान पर एसकेएस कम्पनी प्रबंधक को निशाना बनाया। असामाजिक तत्वों ने इस्पात कम्पनी के प्रबंधक की जमकर पिटाई कर दी । शिकायत के बाद मारपीट के सभी सातों आरोपियों को पकड़ लिया गया है। पुलिस का दावा है कि घटनाक्रम के पीछे फरार आरोपी का यदि हाथ है तो उसे पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया जाएगा।
             

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस वारदात के पीछे एक ऐसे दबंग कोयला माफिया का हाथ है जो बेलतरा से बैतलपुर तक कोयला चोरी का अवैध काम करता है। पहले वह रेत माफिया का काम अपनी दबंगई से काम करता था। तकरीबन 10 माह पहले बाहर से आकर स्थानीय कोयला व्यापारियों पर दबाब बनाकर पांच कोयला  डिपो पर कब्जा कर लिया। अब भी वह अन्य कोलडिपो संचालकों पर दबाव बनाकर व्यापार को दिन दूनी रात चौगुनी बढ़ा रहा है। रसूख, पुलिस की धौंस और मारपीट के सहारे लोगों को निशाना बना रहा है।                

इस दबंग कोयला माफिया का मुंगेली में दो और बिलासपुर जिले की सीमा में तीन कोयला डिपो का चलाता है।  रातभर कोयला कम्पनियों की गाड़ियों से  कोयले की चोरी करता है। जो भी गाड़ी ड्रायवर कोयला देने से मनाही करता है कोयला माफिया मारपीट करने पर उतारू हो जाता है। इस प्रकार की शिकायत कई बार सामने आ चुकी है।             

 समय पर कार्रवाई नहीं होने से इसके हौंसले बुलंद होते जा रहे हैं।  कोयला चोरों ने रायपुर स्थित एसकेएस इस्पात एण्ड पावर लिमिटेड के अजय शर्मा को पहले हिर्री थाना क्षेत्र, इसके बाद खण्डोबा मंदिर और ओमसाँई ढाबा के पास पिटाई शुरू कर दी ।                       

एसपी के सख्त निर्देश पर मारपीट करने वाले सातों आरोपियों गजेन्द्र कश्यप पिता शिव सहाय उम्र 43 साल, सचिन कश्यप पिता ईश्वर कश्यप उम्र 32 साल, अर्जुन वर्मा पिता चन्द्रप्रकाश वर्मा उम्र 18 साल, राकेश खैरवार पिता राजेन्द्र खैरवार उम्र 32 साल, मुकेश कश्यप पिता मनहर लाल कश्यप उम्र 26 साल, राम प्रकाश गन्धर्व पिता बसंत गंधर्व उम्र 21 साल और अजय कुमार साहू पिता सीताराम साहू उम्र 17 साल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की माने तो मारपीट करने वाले सभी आरोपी बाहरी कोल माफिया के लोग हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एक आरोपी  गजेन्द्र को पूछताछ के बाद रतनपुर थाना पुलिस ने छोड़ दिया था। लेकिन दबाव बनने के बाद उसे भी भादंवि की  धारा 379,294,504,341 और 34 के तहत गिरफ्तार किया गया है।

नोट -यह न्यूज़ सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर लिखी गई है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772