ब्रेकिंग
बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स...

45 हज़ार युवक-युवतियों को प्रशिक्षित कर रोजगार प्रदान करेगी जेएसडीएमएस


झारखंड। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वकांक्षी योजना स्किल्ड इंडिया में झारखंड की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास “सक्षम झारखंड कौशल विकास योजना” के बैनर तले आर्थिक रूप से कमजोर युवाओं को रोजगार प्रशिक्षण व रोजगार दिलाने कार्य कर रहे हैं। झारखंड में स्वामी विवेकानंद की जयंती पर युवा दिवस में रोजगार मेले का अयोजन किया जाता है। इस वर्ष भी खेलगांव रांची में 12 जनवरी 2019 को वैश्विक कौशल शिखर सम्मेलन आयोजित है। इसकी शुरुआत विशाल उद्योग रोड शो से होगी। विगत वर्ष 25 हज़ार युवाओं को रोजगार प्रशिक्षण के साथ रोजगार दिलाने में झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसाइटी (जेएसडीएमएस) ने भूमिका निभाई। “सक्षम झारखंड कौशल विकास योजना” को और भी व्यापक करने हेतु मुख्यमंत्री दास ने विभिन्न शासकीय विभागों को एक लाख युवक-युवतियों को रोजगार दिलाने की कवायद की है। इनमें से अधिकतम 45 हज़ार युवक-युवतियों को जेएसडीएमएस प्रशिक्षित कर रोजगार प्रदान करेगी अर्थात् पिछले वर्ष से 15 हज़ार ज्यादा युवाओं को रोजगार मिलेगा।

जेएसडीएमएस NSQT व NCVT के पाठ्यक्रम अंतर्गत युवक- युवतियों को उनके रुझान क्षेत्र इलेक्ट्रिशियन, किट वेल्डर, ऑटोमोटिव, टेलीकॉम, अपैरल, सिक्युरिटी, कंप्यूटर प्रशिक्षण, कैपिटल गुड्स निर्माण एवं वस्त्र उद्योग क्षेत्र व अन्य क्षेत्रों में कौशल विकास प्रशिक्षित कार्यक्रम संचालित कर उन्हें प्रशिक्षण व रोजगार के अवसर प्रदान करती है। इसमें जेएसडीएमएस द्वारा 18 से 35 वर्ष के युवक युवतियों को प्रशिक्षण दिलाया जाता है। आर्थिक रूप से पिछड़े इलाकों के युवक-युवतियों को मुख्य धारा से जोड़ने और स्वावलम्बी बनाने के उद्देश्य से उन्हें कौशल विकास से जोड़ने के लिए झारखण्ड सरकार द्वारा कार्य किया जा रहा है। इस वर्ष आयोजित शिखर सम्मेलन में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर की विभिन्न कंपनियां भाग लेंगी जो झारखंड के युवा को रोजगार देंगी।

जेएसडीएमएस राज्य के विभिन्न जिलों, कस्बों में रोजगार जागरूकता शिविर, प्लेसमेंट कैम्प, रोजगार मेला, कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव, ट्रेनिंग प्रोग्राम, रोजगार उन्नयन कार्यक्रम, उद्योग व रोजगार मेगा रोड शो आयोजित कर हर वर्ग के युवाओं की कला को निखारने व उन्हें रोजगार देने में कार्य करती है। जेएसडीएमएस के एमडी रवि रंजन ने बताया कि मुख्यमंत्री रघुवर दास जी द्वारा राज्य के युवाओं को रोजगार संपन्न बनाने के लिए उनमें कौशल विकास उन्नयन का बहुआयामी मार्ग प्रशस्त किया है। हम आने वाले समय में इसे और व्यापक व प्रभावी बनाने के लिए कार्य कर रहे हैं। जबकि सचिव राजेश शर्मा का कहना है कि जेएसडीएमएस लगातार युवाओं में रोजगार प्रतिभा को विकसित कर रही है उनके रुचि अनुसार क्षेत्र में हम उन्हें प्रशिक्षण दे रहे हैं। ताकि वह बेहतर भविष्य बना सके और “सक्षम झारखंड कौशल विकास योजना” सार्थक बने।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772