ब्रेकिंग
बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स...

देर रात दोस्त को घर छोड़ना पड़ा भारी, मारपीट से घायल

बिलासपुर। देर रात तक दोस्त के साथ घूमने के बाद उसे घर छोड़ने जाना भारी पड़ गया। कुछ अज्ञात लड़कों ने दोनों को देर रात तक सड़क में खड़ा होने का कारण पूछा और पिटाई कर दी। फिलहाल मामला थानें में दर्ज हुआ है। सरकंडा थाना अंतर्गत बंधवापारा निवासी निलेश पांडे यहां रहकर पढ़ाई कर रहा है। शनिवार की रात 11:50 मिनट में निलेश के मामा का लड़का मुदित ने उसे फोन पर बताया कि उसके छोटे भाई विकास शर्मा और उसके दोस्त विकास श्रीवास्तव के साथ कुछ लोगों ने कपिल नगर सरकंडा के पास स्थित पेठा फैक्ट्री के पास मारपीट की है। गंभीर चोट लगने पर दोनों को सिम्स में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। 
निलेश ने सिम्स पहुंचकर भाई विकास शर्मा उसके दोस्त विकास से मिला और घटना की जानकारी ली। निलेश ने एफआईआर में बताया कि विकास ने बताया, वह अपने दोस्त विकास श्रीवास्तव को घर छोड़ने जा रहा था। तब पेठा फैक्ट्री के पास रूककर दोनों बात कर रहे थे। इसी बीच कुछ अज्ञात व्यक्ति ने यहां क्यों खड़े हो कहकर गाली-गलौज करने लगे। मना करने पर जान से मारने कि धमकी दी और डंडे से मारना शुरू कर दिया। मारपीट से विकास शर्मा, विकास श्रीवास्तव के सिर एवं अन्य जगह शरीर मे चोटें आयी है। निलेश पांडे ने थाना सरकण्डा में मामले की शिकायत दर्ज कराई है।
उल्लेखनीय है कि देर रात तक घूमने से अक्सर दुर्घटना घटित होती ही है। असामाजिक तत्वों का सड़कों में जमावड़ा रहता है।
पुलिस पेट्रोलिंग टीम भलीभांति अपना काम करती है। लेकिन वह हर गली तक नहीं पहुंच सकती। इसलिए बिना किसी कारण के देर रात तक घूमना ठीक नहीं। बहरहाल इस मसले पर सजग रहने की जरूरत है।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772