ब्रेकिंग
बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख बिलासपुर: बिल्हा क्षेत्र से गायब हुई नाबालिग लड़की तेलंगाना में मिली

50 हजार 33 जवानों को राखी बांधकर बना विश्व कीर्तिमान, पूरे देश से मिली सराहना, गिनीज बुक से मिला सम्मान

बिलासपुर।राखी विथ खाकी के लिए बिलासपुर पुलिस को गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड का पुरुस्कार मिला। पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में “राखी विथ खाकी” की मुहिम चलाई गई थी। जिसमें छात्र-छात्राओं, महिलाओं, युवतियों ने पुलिस के जवानों को राखी बांधकर रक्षबंधन का पर्व मनाया था। ‘राखी विथ खांखी’ अपने तरह की ख़ास पहल थी जिसने “गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड” बनाया। यूएनडीपी के इंडिया हेड प्रभतेज सोढ़ी के मुख्य आतिथ्य में स्व.लखीराम स्मृति ऑडिटोरियम में यह समारोह संपन्न हुआ। इस अवसर पर कमिश्नर  टी.सी.महावर, पुलिस महानिरीक्षक प्रदीप गुप्ता, कलेक्टर पी.दयानंद एवं पुलिस अधीक्षक आरिफ.एच.शेख उपस्थित थे। यूएनडीपी के इंडिया हेड प्रभतेज सोढ़ी ने कहा कि मुझे गर्व है कि इतने दिल से सभी ने काम किया है, मुझे बड़ी खुशी है, अगर सोच अच्छी हो तो उसका परिणाम अच्छा होता है, जनहित के मार्ग खुलते हैं। शहरी शहर को बनाते हैं, सतत विकास ही शहर को संपन्न बनाता है। यह कहते हुए उन्होंने बिलासपुर पुलिस के कार्यो को सार्थक प्रयास बताया। और गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में उपलब्धि दर्ज होने की बधाई दी।
कार्यक्रम में अपने उद्बोधन के दौरान पुलिस अधीक्षक आरिफ ने बताया कि रक्षाबंधन के पर्व को घर से दूर रहकर शांति बहाल करने में चौबीसों घण्टे तैनात पुलिस के जवानों के लिए ख़ास बनाने और महिलाओं की सुरक्षा के लिए उनसे संपर्क बनाने के लिए 25 अगस्त को बिलासपुर पुलिस ने ‘राखी विथ खाकी’ की मुहिम शुरू की थी। शहर के सभी निजी व शासकीय स्कूलों, कॉलेजों को इस मुहिम से जोड़ा गया। इसमें पूरे शहर ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। 10 घण्टों में 50 हजार 33 जवानों को राखी बांधकर महिलाओं, युवतियों और छात्राओं ने सेल्फी ली और गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। इस मुहिम की पूरे देश में सराहना हुई। हमनें महिला गवाहों के लिए पुलिस थाना में संवेदना केंद्र की स्थापना की ताकि उन्हें सुरक्षित व बेहतर वातावरण मिल सके, वे अपनी समस्याओं को खुलकर सामने रख सके। यहां बनी संवेदना कमेटी में वकील, डॉक्टर, समाज सुधारक महिलाएं होती हैं। कम्युनिटी पुलिसिंग के लिए महिला सुरक्षा में विशेष ध्यान दिया जा रहा है, इसलिए महिला कमांडो बनाए गए और गृहणियों को प्रशिक्षण दिया सुरक्षा गुण सिखाए जा रहे हैं। वर्तमान में 45 हज़ार महिला कमांडो  जिम्मेदारी निभा रही हैं। पुलिस अधीक्षक ने इस अभियान में सहभागी भारत माता स्कूल के शिक्षकों व छात्र-छात्रों एवं बिलासा गर्ल्स डिग्री कॉलेज एवं जनता के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित की। 
इसके पश्चात कलेक्टर पी.दयानंद  ने बिलासपुर पुलिस के कार्यशैली की तारीफ की और मुहिम की उपलब्धि के लिए बधाई दी। और संवेदना  राखी विथ खाकी की पहल को सार्थक बताया। पुलिस महानिरीक्षक प्रदीप गुप्ता  ने कहा कि ने पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में हुई इस पहल की सराहना की और ‘राखी विथ खाकी’ की पहल को गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होने पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी। साथ ही पुलिसिंग के महत्व को बताया और कहा कि “जनता ही पुलिस है, पुलिस ही जनता है” समाज की सुरक्षा बहाल करने में जनता और पुलिस दोनों की बराबर सहभागिता है। प्रदीप ने बिलासपुर पुलिस द्वारा कम्यूनिटी पुलिसिंग में किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। कार्यक्रम के बढ़ते क्रम में कमिश्नर महावर ने अपने उद्बोधन में कहा कि पुलिस के व्यक्तित्व को लेकर विभिन्न भ्रांतियां हैं, पुलिस का काम लोगों को भयभीत करना नहीं है, पुलिस जनता के साथ जनता के लिए काम करती है। पुलिस के उद्देश्य को पूरा करने के लिए क्या तरीका अपनाया जाए, इस बात के लिए जरूरी है कि जनता के इसका सरोकार होना चाहिए। बिलासपुर पुलिस अपनी भूमिका बेहद अच्छी तरह निभाती आ रही है। उन्होंने भी ‘राखी विथ खांखी’ की मुहिम से जुड़ी टीम को अभियान की सफलता के लिए बधाई दी।
यूपी पुलिस, आजमगढ़ रेंज पुलिस, यूपी की बांगरमऊ पुलिस एवं यूपी पुलिस और आईपीएस एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने भी ‘राखी विथ खाकी’ की मुहिम को अपनाया। पुलिस के जवानों को राखी बांधकर महिलाओं ने #rakhiwithkhaki इस रक्षाबंधन में मनाई। और #HappyRakshaBandhan के साथ #rakhiwithkhaki में टैग कर पुलिस के जवानों के साथ अपनी सेल्फी लेकर सोशल मीडिया में अपलोड कर विश्व कीर्तिमान बनाया। इस मुहिम को सफल बनाने में बिलासपुर के स्कूली छात्र-छात्राओं का विशेष योगदान रहा। भारत माता स्कूल के छात्रों ने इसके लिए 2 दिनों तक शहर में स्ट्रीट प्ले के माध्यम से ‘राखी विथ खाकी’ अभियान में भाग लेने के लिए लोगों को जागरूक किया। इस मुहिम में #rakhiwithkhaki ट्वीटर पर तेजी से ट्रेंड में रहा, यह क्रम घटता-बढ़ता गया। जबकि दूसरे दिन भी राष्ट्रीय स्तर पर यह ट्वीटर पर ट्रेंड में रहा। यहां कार्यक्रम के अंत में भारत माता के छात्र-छात्राओं में प्रशांत सिंह ठाकुर व अनुज के नेतृत्व में लघु नाटक की प्रस्तुति दी। इसके पश्चात “राखी विथ खाकी” की मुहिम की उपलब्धियों पर बनी शॉर्ट फ़िल्म भी दिखाई गई। एडिशनल एसपी विजय अग्रवाल ने आभार व्यक्त कर कार्यक्रम का समापन किया। इस अवसर पर बिलासपुर के शासकीय व निजी, स्कूल अथवा कॉलेज के छात्र-छात्राएं व आम जनता उपस्थित रहे।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772