ब्रेकिंग
बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स...

आयोग ने दिए निर्देश, प्रत्याशियों को तीन वाहन रखने लेनी होगी अनुमति, बूथ में मतदाताओं को प्रलोभन देना पड़ेगा महंगा

बिलासपुर। निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव के संदर्भ में विशेष निर्देश जारी किए गए है। प्रदेश सचिव द्वारा इस दिन के लिए बिलासपुर जिले के सभी शासकीय कार्यालयों में अवकाश घोषित किया गया है। 20 नवंबर को निर्वाचन के लिए मतदान दलों की रवानगी 19 नवंबर को सुबह 7:00 बजे से विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 25-कोटा, 28-तखतपुर, 29-बिल्हा, 30- बिलासपुर, 31-बेलतरा, 32-मस्तूरी के शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय, कोनी एवं विधानसभा क्षेत्र 24-मरवाही के लिए शासकीय गुरुकुल विद्यालय पेंड्रा रोड से होगी। मतदान केंद्रों में सहायता केंद्र की स्थापना की जाएगी, जहां बीएलओ तैनात रह कर मतदाताओं को मार्गदर्शन देंगे। बीएलओ के पास विवरण के लिए मतदाता पर्ची एवं अल्फाबेट्स मतदाता सूची भी उपलब्ध रहेगी।

बिलासपुर जिले में 8,141 दिव्यांग मतदाताओं के लिए सभी प्रकार की सुविधा मतदान केंद्रों में उपलब्ध रहेगी। इनमें रैम्प, व्हीलचेयर, मतदान केंद्र तक आने के लिए वाहन, बेलमतपत्र बेल मतदाता पर्ची एवं प्रतीक्षा कक्ष बनाए गए हैं। जिले में 105 थर्ड जेंडर मतदाताओं के लिए सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी। बता दें कि सभी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में मतदाता पर्ची का वितरण बीएलओ के माध्यम से कराया जा रहा है। मतदान केंद्र के 200 मीटर के परिधि में किसी भी प्रकार का बूथ प्रत्याशी स्थापित नहीं कर सकता, इसके लिए उक्त क्षेत्र अधिकार की अनुमति लेनी होगी। अगर किसी प्रत्याशी ने बिना अनुमति ऐसा किया तो इसकी सूचना रिटर्निंग अफसर को भी देनी होगी।

इस बात के भी सख्त निर्देश हैं कि स्थापित बूथ में केवल एक टेबल, दो कुर्सी, एक बैनर रख सकते हैं, जिसमें केवल प्रत्याशी का नाम तथा चुनाव चिन्ह रहेगा। बूथ में किसी भी परिस्थिति में मतदान केंद्र पर जाने वाले मतदाताओं को नहीं रोका जाएगा, किसी भी प्रकार का प्रलोभन नहीं दिया जाएगा। मतदान केंद्र के 100 मीटर की परिधि में मोबाइल फोन, कार्डलेस फोन, वायरलेस सेट इत्यादि का उपयोग वर्जित होगा, चुनाव प्रक्रिया से जुड़े अधिकारियों को छोड़कर। मतदान दिवस में प्रत्येक प्रत्याशी को केवल 5 सीटर 3 वाहन की अनुमति है, इसके लिए प्रत्याशी अनुविभागीय दंडाधिकारी से नियमानुसार आज्ञा पत्र ले सकते हैं। इस बात के भी कड़े निर्देश हैं कि इन वाहनों में अगर किसी भी प्रत्याशी द्वारा मतदाताओं को मतदान केंद्र तक लाने में इस्तेमाल किया जाता है। तो उस प्रत्याशी के विरुद्ध लोक.प्राधिकरण के 1951 की तहत ठोस कार्रवाई होगी।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772